इंदौर। मध्यप्रदेश के इंदौर में आज से प्रवासी भारतीय सम्मेलन शुरू हो चूका , है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार, 9 जनवरी को 17वें प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन का शुभारंभ करेंगे, जबकि राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू मंगलवार, 10 जनवरी को इसका समापन करेंगी। प्रवासी भारतीय सम्मेलन के लिए दुनियाभर से आए एनआरआई पहुंचने लगे हैं।

प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन एवं ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के शुभारंभ से पहले प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपनी धर्मपत्नी साधना सिंह (Wife Sadhna Singh) के साथ इंदौर के प्रसिद्ध खजराना गणेश मंदिर पहुंचे। यहाँ उन्होंने दर्शन-पूजन कर विघ्नहर्ता भगवान गणेश से प्रदेशवासियों के मंगल एवं कल्याण की प्रार्थना की।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ आए कुछ सिंगापुर के प्रवासी भारतीयों ने भी गणेश मंदिर दर्शन किया। सिंगापुर से आए प्रवासी भारतीयों में हरिकिशन मुथुसामी, वसंती हरिकिशन, आनंद मित्रा, स्वप्नाश्री आनंद और वसनदम राजू शामिल थे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रेडिसन होटल पहुंचकर सूरीनाम के राष्ट्रपति चंद्रिका प्रसाद संतोखी का स्वागत भी किया।

Als0 Read – हिमाचल में सुक्खू कैबिनेट का विस्तार, इन 7 विधायकों को मिला मंत्री पद, देखें लिस्ट

पहले दिन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि जब भी कोई इनोवेटिव आइडिया (innovative idea) आए तो मामा को याद कर लेना। हम आपका साथ देने में कसर नहीं छोड़ेंगे। इसके बाद सीएम ने कहा, है नहीं है हाथ केवल हाथ मलने के लिए, तू इन्हें मुठी बना दुनिया बदलने के लिए।

देश के युवा और खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने युवा प्रवासियों का स्वागत करते हुए कहा कि पासपोर्ट का रंग कोई भी हो हमारा खून एक ही है। उन्होंने युवा प्रवासियों को सराफा चौपाटी जाने का आग्रह भी किया। अनुराग ठाकुर ने प्रवासी भारतीयों को संबोधित करते हुए कहा कि आप यहां आए हैं तो सराफा जरूर जाएं और वहां व्यंजनों का आनंद लें।

2019 के बाद कोरोना महामारी के चलते पहली बार सम्मेलन भौतिक रूप से हो रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) सोमवार 9 जनवरी को 17वें प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन का शुभारंभ करेंगे, जबकि राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू मंगलवार 10 जनवरी को इसका समापन करेंगी। राष्ट्रपति समापन सत्र में प्रवासी भारतीयों को सम्मानित भी करेंगी।