रोजगार दिवस के कार्यक्रम में सीएम शिवराज ने की बड़ी घोषणा, 3 सितबंर को चयनित शिक्षकों को देंगे नियुक्ति पत्र

इंदौर में टॉय क्लस्टर का शिलान्यास किया। कार्यक्रम के संबोधन में उन्होंने बताया की शहर में मात्र साढ़े तीन हेक्टेयर में बने टॉय क्लस्टर में 22 फैक्ट्रियां लगेंगी, जिसमें 2100 से ज्यादा युवाओं को रोजगार मिलेंगा। 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शनिवार को इंदौर में रोजगार कार्यक्रम के दौरान प्रदेश के सभी जिलों के लोगों को मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री के अन्तर्गत रोजगार देने के वादे किए हैं। इंदौर में टॉय क्लस्टर का शिलान्यास किया। कार्यक्रम के संबोधन में उन्होंने बताया की शहर में मात्र साढ़े तीन हेक्टेयर में बने टॉय क्लस्टर में 22 फैक्ट्रियां लगेंगी, जिसमें 2100 से ज्यादा युवाओं को रोजगार मिलेंगा।

सीएम शिवाराज ने कार्यक्रम की शुरूआत पीएम और सीएम योजना के अंतर्गत हितग्राहीयों को मिलें लोन से की थी। जिसमें बड़वानी के एक हितग्राही से वर्चुअल चर्चा की इस दौरान उन्होंने पुछा क्या हालचाल है, फिर युवती ने भी सीएम के हालचाल पुछे। सीएम ने युवती को कहा कि, अगर भांजी बढ़िया है तो मामा भी बढ़िया हैं। उन्होंने पांच लाख लोन पास कराने में आपने किसी को कोई भेंट, दक्षिणा, पूजा तो नही मांगी। इस पर हितग्राही ने कहा कि, किसी ने एक रूपया भी नहीं मांगा।

Also Read : Health : खाने में ज्यादा नमक से होता है हड्डियों को नुकसान, इन चीजों से भी होती है कैल्शियम की कमी

इसके बाद सीएम ने शाजापुर के हितग्राही जितेन्द्र पाटीदार से बात करते हुए उसके बिजनेस के बारे में जानकारी ली। इसके साथ ही पुछा की आपको लोन पास करने के लिए बैंक की प्रकिया में कोई परेशीनी और उद्योग विभाग ने ज्यादा चक्कर तो नही लगवाए। मंडला के एक अन्य हितग्राही दिनेश से बैंक की प्रोसेस और वहां आई परेशानी के बारे में भी पूछा।

कार्यक्रम में टॉय क्लस्टर का शुभारंभ बटन दबाक किया गया हैं। जिसमें औद्योगिक क्षेत्र रंगवासा-राऊ स्थित 3565 हेक्टेयर जमीन पर किया जाएगा। इसमें लेदर, प्लास्टिक, वुडन, सॉफ्ट, क्लस्टर में फोम एवं एजुकेशन टॉयस का निर्माण किया जाएगा। लघु श्रेणी की 20 यूनिटों की स्थापना की जाएगी। इनमें पहले फेस में करीब 79.87 करोड़ रुपये का निवेश होगा। सीएम ने कार्यक्रम के दौरान ही बटन दबाकर वर्चुअली क्लस्टर का शुभारंभ किया।

प्रदेश में निवेशकों को न्योता देने के लिए इंदौर में 7,8,9 जनवरी को प्रवासी भारतीय समिट (एनआरआई समिट) का आयोजन किया जाएगा। इसके ठीक बाद इंदौर में ही ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट का भी आयोजन किया जाएगा।

इसी के साथ उन्होंने बताया कि, शिवराज सरकार ने कुछ काम महिलाओं के लिए आरक्षित कर दिया हैं। जिसमें महिलाओं को अलग-अलग स्कीम के तहत बैंको से लोन करवाएंगी। लिए गए लोन में केवल दो प्रतिशत का ही ब्याज देना होगा बाकि शिवराज मामा सरकार और भाजपा पार्टी देंगी। महिलाओं के लिए आरक्षित कामों में स्कूल यूनिफार्म और पोषण आहार बनाने जैसे कार्यो को शामिल किया गया हैं। मेरा लक्ष्य है कि मेरी बहनें घर के कामकाज के साथ हर महिने दस हजार रूपए कमाएं।

Also Read :Indore : मालवांचल यूनिवर्सिटी ने गुड लेबोरेटरी प्रैक्टिस विषय पर सेमिनार का किया आयोजन

शिक्षकों सितबंर में मिलेंगा नियुक्ति पत्र

सीएम ने कहा कि अब मैं युवाओं को सरकारी सेवा का नियुक्ति पत्र सार्वजनिक कार्यक्रमों में ही दूंगा। इसकी शुरुआत 3 सितम्बर को भोपाल के जम्बूरी मैदान से होगी। यहां चयनित शिक्षकों को नियुक्ति पत्र देने के लिए कार्यक्रम आयोजित होगा। इसके अलावा हर साल एक लाख नौकरियां देने का लक्ष्य रखा है।

स्वरोजगार योजनाओं के हितग्राहियों के लोन मंजूर

इसी कड़ी में स्वरोजगार योजनाओं के अंतर्गत लाभार्थियों को लोन मंजूरी एवं वितरण कार्यक्रम मुख्यमंत्री की उपस्थिति में हो रहा है। इसके साथ ही प्रदेश के अन्य जिला मुख्यालयों में भी जिला स्तरीय कार्यक्रम होना है। इंदौर में कार्यक्रम के माध्यम से 75 हजार से अधिक लाभार्थियों को स्वरोजगार के लिए 466 करोड़ रुपए की मदद होनी है। मुख्यमंत्री प्रतीक के रूप में चयनित लाभार्थियों को लाभ के प्रमाण-पत्र का वितरण करेंगे। वे इंदौर के अलावा प्रदेश के चार जिलों अनूपपुर, शाजापुर, बड़वानी एवं छतरपुर के हितग्राहियों से वर्चुअली संवाद भी करेंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा करेंगे। जिले के प्रभारी तथा गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा व जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट विशिष्ट अतिथि के रूप में मौजूद रहेंगे।