पंजे छाप अधिकारियों को उनकी हैसियत बता देंगे,निधि निवेदिता का कृत्य निन्दनीय

0
35

गोविन्द मालू

राजगढ़ की कलेक्टर निधि निवेदिता नें सीएए के समर्थन में निकली रैली में एक कार्यकर्ता को थप्पड़ मार कर अपनी मानसिकता,कांग्रेसी गुलाम होने और खीज का परिचय दिया है।यह निन्दनीय कृत्य करने के लिए निवेदिता को माफ़ी मांगनी चाहिए।

खनिज निगम के पूर्व उपाध्यक्ष गोविन्द मालू ने कहा कि इस सरकार में अधिकारी बेलगाम और कुंठित हो गए हैं,इन्हें ये नहीं इलहाम है कि ये नोकर हैं,और मालिक जनता है जिनके टेक्स के रुपयों से ये ऐश कर रहें हैं।

मालू ने कहा कि काँग्रेस की सरकार हमेशा न तो रही है ,ना ही रहने वाली।हम ऐसे पंजा छाप अधिकारियों की कुण्डली बना रहें हैं और समय आने पर इन्हें सबक़ सिखाया जाएगा। ये भृष्ट अधिकारी अपनी शैली नहीं बदलेंगे,तो हम इन्हें इनकी हैसियत बता देंगें, नोकरी करना क्या होता है भाजपा इन्हें बताना जानती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here