Breaking News

आपके लाइफ की बैटरी चार्ज करता है योग

Posted on: 21 Jun 2018 05:41 by shilpa
आपके लाइफ की बैटरी चार्ज करता है योग

योग जिसकी उत्पत्ति भारत में हुई है। आज वही योग दुनियाभर में प्रसिद्ध है और लोगोंको फायदा पहुंचा रहा है। योग व्यायाम का एक प्रकार है जिसके नियमित अभ्यास से हम शारीरिक और मानसिक अनुशासित होते है। योग सभी के जीवन में बहुत महत्व पूर्ण है। योगा शरीर और मस्तिष्क के संबंधों में सन्तुलन बनाने में मदद करता है। तो आईए जानते है योगा का महत्‍व।

स्वस्थ हृदय
हृदय जिसका जीवनकाल पर्यन्त स्वस्थ रहना बहुत आवश्यक है ,और इसमें आपकी सहायता करता है योग। जिस योगाभ्यास में कुछ समय के लिए साँस रोकी जाती है वह हृदय के साथ ही उसकी धमनियों को स्वस्थ रखता है। रक्तसंचार सुचारु रूप से होता है,रक्त एक जगह रुकता नहीं और हृदय स्वस्थ रहता है।

श्वसन प्रक्रिया
योगा के अनेक आसानों से फेफड़े और उदर भाग की क्षमता बढ़ती है। योगा से रोज के कार्य की कार्यक्षमता में विकास होता है और श्वसन संबंधित रोग नहीं होते है।

Image result for रक्त संचार और योग

concen

बेहतर रक्तसंचार
कई तरह के योग और श्वसन क्रियाओं से शरीर में रक्त संचार अच्छा होता है। उससे शरीर में पोषक तत्वों और ऑक्सीजन को अच्छे से प्रवाहित होने में मदद मिलती है। जिसके कारण त्वचा के साथ ही शरीर के अंदरूनी अंग स्वस्थ रहते है।

एकाग्रता शक्ति का विकास
योग दृढ़ता एवं मन की एकाग्रता बढ़ाता है। योग मन को दुःख एवं दर्द सहन करने की शक्ति प्रदान करता है।

 

दर्द से रखे दूर
योगा से शरीर में खिंचाव होता है जिससे रीढ़ की हड्डी में दबाव और जकड़न से भी आराम मिलता है।योगा से शरीर में लचीलापन आता है और ऊर्जा का विकास होता है। योगा से शरीर के अनेक प्रकार के दर्दो से छुटकारा मिलता है जैसे- पीठ दर्द, जोड़ों का दर्द, सर दर्द, शरीर दर्द आदि में योग बहुत ही उपयोगी है।

तनाव से मुक्ति
योग करनेसे मस्तिष्क हल्का महसूस करता है और तनाव कम होता है। आज की व्यस्ततम और तनावग्रस्त जिंदगी में योग करनेसे अपार शांति मिलती है।

दिमागी विकास
योगा करने के कारण शरीर में ऑक्सीजन का बहाव तेज हो जाता है जिससे दिमाग का विकास भी तेजी से होता है और साथ ही शरीर का लचीलापन बढ़ता है। हमेशा एनर्जेटिक फील होता है।

सहनशक्ति का विकास
योगा से विभिन्न प्रकार के भौतिक और मानसिक तनावों से मुक्ति मिलती है।योगा करने से क्रोध को कम किया जा सकता है और सहनशक्ति का विकास होता है।

शरीरिक का संतुलन
योग करने से शरीर का संतुलन बना रहता है। कई बार गिरकर चोट लगने हड्डी के टूटने पीठ आदि संबंधित समस्याओं में दर्द के कारण भी संतुलन बिगड़ता है।

अनचाहे मोटापे से मुक्ति
शरीर के अलग अलग हिस्सों की चर्बी हटाने के लिए अलग अलग योग हैं।योगा करने से पेट के साथ ही शरीर के अन्य भागों जमा अतिरिक्त चर्बी को हटा सकते हैं।

नशे से छुटकारा
बहुत से छात्रो को अपने कॉलेज के समय मादक द्रव्यों की आदत लग जाती है। किसी भी प्रकार के नशे से जीवन का नाश ही होता है। लेकिन योगा से किसी भी प्रकार के नशे से छुटकारा पाया जा सकता है। लगातार योगाभ्यास से इन गलत आदतों से छुटकारा पा सकते है।

संपूर्ण स्वास्थ्य
योगा करने से केवल बीमारियां ही दूर नहीं होती है योग आपको गतिशील, खुश और उत्साही भी बनाता है।अच्छा स्वास्थ्य केवल बीमारियों से दूर रहना ही नहीं है बल्कि अपने मन और भावनाओं के बीच संतुलन को स्थापित करना भी है।

सौंदर्य को बढ़ाए
योगा से इन कील-मुंहासों से छुटकारा पाया जा सकता है और साथ ही आप के बालों को सुंदर बनाने में भी योग महत्वपूर्ण योगदान देता है।

योग के अनेक तरह के आसान है जो अलग अलग तरह की बीमारियोंकी रोकथाम में लाभकारी सिद्ध हो रही है। तो क्यों न आप भी आज अन्तराष्ट्रीय योग डे के दिन से योगाभ्यास की शुरुआत करे।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com