करियर

देश में लागू होगी नई शिक्षा नीति, बस संसद की मुहर का इंतजार

नई दिल्ली: आज के बच्चे ही कल का भविष्य है। ऐसे में इनके लिए अच्छी शिक्षा बहुत जरुरी है। इसी को ध्यान में रखते हुए देश में नई शिक्षा नीति का मसौदा तैयार कर लिया गया है। शिक्षा नीति को लेकर लाइव वेबिनार में मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने कहा कि दुनिया में इतना बड़ा विमर्श पहली बार हुआ है, जब करोड़ों लोगों से परामर्श हो रहा है, ग्राम सभाओं से लेकर शिक्षाविदों, राजनेताओं, वैज्ञानिकों से मिले सुझाव के बाद नई शिक्षा नीति का मसौदा तैयार कर लिया गया है।

एचआरडी मंत्री ने कहा कि बिल संसद में पास होते ही देश में नई शिक्षा नीति लागू हो जाएगी। ‘चुनौतियों को अवसर के रूप में बदलना’ विषय पर बोलते हुए पोखरियाल ने कहा कि फाइनल ईयर के अंतिम सेमेस्टर के स्टूडेंट्स को इंटरनल असेसमेंट के आधार पर प्रमोट किया जाएगा।

एचआरडी मिनिस्टर ने टीचर्स को भी कोरोना वारियर बताते हुए कहा कि बच्चों को कोरोना के प्रति जागरूक करने के साथ ही कोरोना काल में शिक्षण कार्य आपने जारी कर रखा है, यह कोरोना से एक तरह की लड़ाई है।

नीट और जेईई के लिए ऐसे करें तैयारी

एचआरडी मिनिस्टर ने बताया कि नीट और जेईई परीक्षा के लिए ‘नेशनल अभ्यास ऐप’ लॉन्च किया गया है, जिसको चार लाख के करीब स्टूडेंट्स ने डाउनलोड किया है। इससे पढ़ाई करने में आसानी होगी। आज जो हम लोग और हमारे छात्र ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे हैं, यही चुनौतियों पर अवसर खोजना है। पचास हजार डिग्री कॉलेज के प्राचार्यों के प्रिंसिपलों को संबोधित करते हुए उन्होंने यह बात कही।

शोध की दिशा में होगें बड़े काम

पोखरियाल ने कहा कि जो लोग शोध कर रहे हैं उनको परेशान होने की जरूरत नहीं है। शोध के लिए देश में शोध सिंधु नेशनल डिजिटल लाइब्रेरी (एनडीएल) जैसे पोर्टल मौजूद हैं, जिनमें करोड़ों अनुसंधान अपलोड हैं। इनकी मदद से शोधकर्ता अपने शोध को बेहतर तरीके से कर सकते हैं।

Related posts
breaking newsscroll trendingएजुकेशनकरियर

स्थगित हुई सीए की परीक्षा, मई और दिसंबर में होती है परीक्षा

नई दिल्ली : इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड…
Read more
breaking newsएजुकेशनकरियर

अब जुलाई में नहीं होगी कोई भी परीक्षा!

नई दिल्ली। देशभर में कोरोना वायरस क…
Read more
करियर

'माय इंडेक्स' प्लेटफ़ॉर्म से इंडेक्स मेडिकल कॉलेज छात्रों को करवा रहा ऑनलाइन पढ़ाई

इंदौर। लॉकडाउन में शिक्षण संस्थानों…
Read more
Whatsapp
Join Ghamasan

Whatsapp Group