धार जिले के खलघाट मे नर्मदा नदी में सवारियों से भरी बस गिरी, कमिश्नर पवन शर्मा वरिष्ठ अधिकारियों के साथ पहुंचे घटना स्थल

धार और खरगोन ज़िले की सीमा से एक बड़ी खबर सामने आई है। यहां हादसें थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। दरअसल, यहां नर्मदा नदी पर एक बस के दुर्घटनाग्रस्त होने की प्राथमिक और अपुष्ट जानकारी मिली है।

धार और खरगोन ज़िले की सीमा से एक बड़ी खबर सामने आई है। यहां हादसें थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। दरअसल, यहां नर्मदा नदी पर एक बस के दुर्घटनाग्रस्त होने की प्राथमिक और अपुष्ट जानकारी मिली है। जानकारी मिली है कि बस इंदौर से महाराष्ट्र जा रही थी। यह बस सवारियों से भरी थी। यहां आए दिन वाहन हादसों का शिकार हो रहे हैं। बड़े हादसे की सुचना मिली है।

बता दें संभागायुक्त डॉक्टर पवन कुमार शर्मा ने दोनों ज़िलों के कलेक्टर्स को मौक़े पर पहुंचने के निर्देश दिए हैं। बस पूरी तरह से पानी में डूब गई है। वहीं जानकारी मिली है कि अब तक 5 लोगों के शव निकाले जा चुके हैं। बस में 25 से 30 सवारी बैठी थी।

Also Read – सोमवार को मजबूत होकर खुले भारतीय बाजार, निफ्टी 100 अंक तो सेंसेक्स 400 ऊपर

naidunia

हालांकि यह भी सुचना मिली है कि खलघाट में 10 मिनट का ब्रेक लेने के बाद सुबह पौने 10 बजे बस नर्मदा में गिरी। रॉन्ग साइड से आ रहे वाहन को बचाने से यह बड़ा हादसा हो गया। घटना के बाद घाट पर मौजूद लोग और नदी में चल रहे नाविक तुरंत बस के पास पहुंचे और यात्रियों को बाहर निकालने की कोशिश करने लगे।

बचाव कार्य में मार्गदर्शन के लिए संभाग आयुक्त पवन कुमार शर्मा भी खलघाट पहुंच रहे हैं। बस भी नदी से बाहर निकाल ली गई है। जिसमे 8 लोगो की मौत की पुष्टि की गई है। जानकारी के लिए बता दें नदी से बॉडी बाहर निकाली गई है। बस के स्टीयरिंग फेल होने की भी खबर सामने आ रही है। मुख्यमंत्री चौहान ने खरगोन कलेक्टर से फोन पर पुनः चर्चा कर रेस्क्यू ऑपरेशन की विस्तृत जानकारी ली। मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव मनीष रस्तोगी और मुख्यमंत्री सचिवालय भी रेस्क्यू ऑपरेशन में खरगोन, धार और इंदौर जिला प्रशासन के संपर्क में है।

मध्य प्रदेश के मंत्री नरोत्तम मिश्रा का कहना है कि इंदौर से पुणे जा रही महाराष्ट्र रोडवेज की बस धार जिले के खलघाट संजय सेतु से गिर गई है, जिसमे 12 लोगों की मौत हो गई और 15 को बचा लिया गया।

कमिश्नर पवन शर्मा वरिष्ठ अधिकारियों के साथ पहुंचे घटना स्थल

संभागायुक्त डॉक्टर पवन कुमार शर्मा और पुलिस महानिरीक्षक श्री राकेश गुप्ता खलघाट पहुँच गए हैं। उन्होंने तेज बरसात के बीच राहत कार्य का मुआयना किया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इंदौर के कमिश्नर डॉक्टर पवन कुमार शर्मा से घटना की पूरी जानकारी ली और निर्देश दिए की राहत कार्य में पूरी संवेदनशीलता रखी जाए।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस दुर्घटना पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री श्री एकनाथ शिंदे से भी दूरभाष पर चर्चा की और घटना की जानकारी दी। साथ ही शिवराज सिंह ने कहा, घायलों का बेहतर इलाज कराया जाए और दुर्घटना में अकाल काल कवलित हुए यात्रियों के पार्थिव देह को सम्मानपूर्वक उनके गृहनगर तक पहुंचाने की व्यवस्था की जाए।

आज खलघाट में हुई बस दुर्घटना में मृतकों के परिवारजनों को मध्यप्रदेश शासन द्वारा 4-4 लाख रुपए की राहत राशि प्रदान की जाएगी ।

अमलनेर महाराष्ट्र शवों को एंबुलेंस से अस्पताल भेजा गया

मृतक के नाम
1.चेतन पिता रामगोपाल जागीड़ निवासी नागलकला गोविंदसेठ जयपुर
2. जगन्नाथ-हेमराज जोशी (70) निवासी मल्लागढ़ उदयपुर राजस्थान
3. प्रकाश-श्रावण चौधरी (48) निवासी शारदा कॉलोनी अमलनेर जलगांव
4. निबाजी आनंदा पाटील (60) निवासी पिलोदा अमलनेर जलगांव
5. कमल निबाजी पाटील (55) निवासी पिलोदा

नर्मदा नदी पर खलघाट में हुए बस हादसे में जान गंवाने वाले 13 में से पांच मृतकों की पहचान हो चुकी है। इनमें दो राजस्थान और तीन महाराष्ट्र के निवासी बताए जा रहे हैं। धामनोद के सरकारी अस्पताल में कुल 13 डेडबॉडी पहुंची है। इनमें 9 पुरुष और 4 महिलाओं की है।