मध्यप्रदेश के 31 शहरों पर भाजपा का कब्जा, 4 में कांग्रेस, 3 पर आप ने दर्ज की जीत

मध्यप्रदेश के 36 नगर पालिकाओं के लिए मतगणना स्पष्ट रूप लेती हुई नजर आ रही है। इस दौरान इन सीटों पर भाजपा कांग्रेस और आप ने जीत दर्ज की है।

प्रदेश के नगर पालिकाओं पर भाजपा का कब्जा करीब- करीब हो गया है। इस दौरान अगर बात करें तो 31 शहरों में बीजेपी तो 4 में कांग्रेस की जीत हुई है और 3 नगर पालिका में आप ने जीत दर्ज की है। मुरैना से पोरसाज़ डाबर, शाजापुर नगर पालिका में आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार जीते हैं। तो वहीं कांग्रेस ने 4 नगर पालिकाओं पर जीत दर्ज की है। ऐसा पहली बार हुआ है जब आम आदमी पार्टी ने भी नगरीय निकायों में जीत दर्ज कराई है। इस दौरान कांग्रेस की जीत की बात करें तो उमरिया, लहार, सिवनी, पनागर में जीत दर्ज की है। तो वहीभाजपा ने हरदा, दतिया, बैतूल, राजगढ़, ब्यावरा, शाजापुर, विदिशा, पन्ना, नरसिंहपुर, करेली, गोटेगांव, गाडरवारा, अंबाह में भाजपा की जीत हुई है।

Must Read– मध्य प्रदेश नगर निगम चुनाव में खिला बीजेपी का कमल, इंदौर में संजय शुक्ला ने मानी हार, भोपाल भाजपा दफ्तर में जश्न का माहौल
हरदा में नगर पालिका में 22 वार्ड में 14 पर भाजपा और 8 पर कांग्रेस के उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की है। तो वहीं दतिया में 36 में से 32 सीटें भाजपा ने हासिल की है, तो यहां पर कांग्रेस को 3 सीटें ही मिल पाई है। सीहोर में नगर पालिका के 35 वार्ड में भाजपा 22 पर जीत गई है और कांग्रेस 9 और 3 वार्डों में निर्दलीय ने जीत हासिल की है। पन्ना में भाजपा के 19 उम्मीदवारों ने जीत हासिल की और यहां पर कांग्रेस ने 6 वर्ड में जीत दर्ज की है।

इस दौरान मंदसौर में वार्ड 8 से कांग्रेस के प्रीतम पंचोली ने 292 वोट से जीत हासिल की। तो वही वार्ड 9 से भाजपा के नीलेश जैन और वार्ड 20 से निर्दलीय दिव्या अनूप माहेश्वरी ने जीत हासिल की। आगर विदिशा की बात करें तो भाजपा के 16 उम्मीदवार और कांग्रेस के 5 उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की है। दमोह में पूर्व वित्तमंत्री जयंत मलैया के बेटे सिद्धार्थ माल्या पैनल के उम्मीदवारों ने जीत हासिल की लेकिन चुनाव से पहले ही सिद्धार्थ ने भाजपा से इस्तीफा दे दिया था। जबलपुर में 9 में भाजपा और 7 में कांग्रेस और 2 सीट पर निर्दलीय ने जीत हासिल की। तो वहीं गुना में भाजपा के 19 और कांग्रेस के 12 और 6 निर्दलीय ने जीते हासिल की हैं। अंबाह में कांग्रेस के जय राजोरिया 27 वोटों से जीत गए हैं।