दलित होने के कारण भाजपा सांसद को गाँव में घुसने से रोका

0
56

बंगलुरू। यहां पावागढ़ा जिले के गांव में डॉक्टरों के साथ हाल-चाल पूछने पहुंचे भाजपा सांसद को लोगों ने गांव में नहीं घुसने दिया। अछूत कह कर वापस चले जाने को कहा।चित्रदुर्ग से सांसद ए. नारायण स्वामी को उन्हीं के लोकसभा क्षेत्र में अपमानित होना पड़ा है। इलाके का दौरा करने पहुंचे थे। गोल्ला समुदाय के लोगों का कहना था कि हमारे गांव में छोटी जाति के लोगों को आने की इजाजत नहीं है। ये ओबीसी वालों का गांव है और सांसद दलित हैं। ये फर्क हमने नहीं पैदा किया है, पीढिय़ों से चला आ रहा है।

अपशकुन मानते गांववाले

गांववाले इसे अपशकुन मानते हैं। चुनाव प्रचार के वक्त भी नारायण स्वामी के लोग गांव में घूमे थे। वो खुद नहीं आए, क्योंकि पहले ही गांववालों ने खबर पहुंचा दी थी कि प्रचार की जरूरत ही नहीं है। इस मामले में पुलिस जांच के आदेश हुए हैं। एसपी नारायण नाथन ने कहा है कि यह जातीय भेदभाव का मामला है। जिन लोगों ने सांसद को रोका, उन पर कार्रवाई होगी। सांसद का कहना है कि मैं तो गांववालों की भलाई के लिए गया था। दु:खी हूं कि वो सिर्फ जाति की वजह से अपने घरों तक नहीं आने देना चाहते।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here