जोमैटो बदलने जा रहा अपने ब्रांड का नाम, जानिए क्या होगा नया नाम

इंडियन स्टार्टअप जोमैटो लिमिटेड बहुत कुछ बदलने जा रही है. खबर आ रही है कि फूड डिलिवरी कंपनी का मैनजमेंट एक पैरेंट कंपनी बना सकता है. दरअसल, कंपनी को संभालने के लिए अलग-अलग सीईओ भी रखे जाने की खबर है.

इंडियन स्टार्टअप जोमैटो लिमिटेड बहुत कुछ बदलने जा रही है. खबर आ रही है कि फूड डिलिवरी कंपनी का मैनजमेंट एक पैरेंट कंपनी बना सकता है. दरअसल, कंपनी को संभालने के लिए अलग-अलग सीईओ भी रखे जाने की खबर है. जोमैटो अपने प्रमुख कारोबार के नेतृत्व के लिए चार सीईओ की नियुक्ति कर रहा है. गौरतलब है कि पिछले साल 2021 में जोमैटो का आईपीओ आया था और कंपनी ने हाल ही में क्विक डिलिवरी कंपनी ब्लिंकिट का भी अधिग्रहण किया है. नाम बदलने के विचार की खबर के बाद आज कंपनी के शेयर में भी शानदार तेजी दिखी है.  bn

गौरतलब है कि दीपिंदर गोयल पैरेंट कंपनी को री-ब्रांड करने का प्लान बना रहे हैं और जोमैटो का नाम बदलकर ‘इटरनल’ रखे जाने की खबर आ रही है. ब्लूमबर्ग के मुताबिक, जोमैटो का नया नाम ‘इटरनल लिमिटेड’ (Eternal) रखा जा सकता है. एंट ग्रुप कंपनी टेमासेक होल्डिंग्स पीटीई और गोल्डमैन सैक्स ग्रुप इंक द्वारा सपोर्टेड कंपनी जोमैटो ने एक इंटरनल मेमो में कहा है कि वह किराना-डिलीवरी स्टार्टअप ब्लिंकिट की डील के बाद अब ऐसी यूनिट तैयार कर रहा है जिसके लिए कम से कम चार अलग-अलग सीईओ रखे जाएंगे. लेकिन ये सारे यूनिट एक साथ मिल कर काम करेंगे. आपको बता दें कि कंपनी के पास हाइपरप्योर नाम से बिजनेस-टू-बिजनेस यूनिट भी है, जो रेस्टोरेंट के लिए सामग्री और रसोई उपलब्ध कराती है.

Also Read – चीन- ताइवान में जंग छिड़ी तो दुनिया की कंपनियों के कारोबार पर पड़ेगा बुरा असर

Zomato के को-फाउंडर और सीईओ दीपिंदर गोयल ने कर्मचारियों के साथ एक नोट शेयर किया है, जिसमें लिखा है, ‘हमारे प्रत्येक कारोबार (जैसे जोमैटो, ब्लिंकिट, हाइपरप्योर और फीडिंग इंडिया) चलाने के लिए अलग-अलग चार सीईओ होंगे। सभी एक-दूसरे के साथियों के रूप में काम करेंगे, और एक होकर काम करेंगे। कारोबार को विस्तार करने के लिए एक सुपर-टीम तैयार की जाएगी.’ गोयल ने कहा, ‘आज से, हम इस बड़े संस्थान को “Eternal” कहने जा रहे हैं. उन्होंने यह भी कहा कि यह नाम अभी इंटरनल ही रहेगा. हालांकि अब तक इसके लिए कोई अधिकारिक घोषणा नहीं हुई है, लेकिन कंपनी के भीतर नए नाम ‘इटरनल’ का इस्तेमाल शुरू हो गया है. जल्द ही आधिकारिक तौर पर इसकी घोषणा हो सकती है