दिल्ली : Zee Live द्वारा एक संस्कृति उत्सव अर्थ का आयोजन, इस जश्न में देंखे गौरवशाली भारत

भारतीय स्वतंत्रता के 75 साल का जश्न इस बार अर्थ - ए कल्चर फेस्ट(A Culture Fest) में कुछ खास होगा। इस बार अर्थ सांस्कृतिक फेस्ट में भारत की समृद्ध संस्कृति और विरासत का जश्न होगा। सीजन 4 के साथ दर्शकों को इंतजार भी खत्म होगा।

नई दिल्ली: भारतीय स्वतंत्रता के 75 साल का जश्न इस बार अर्थ –ए कल्चर फेस्ट(A Culture Fest) में कुछ खास होगा। इस बार अर्थ सांस्कृतिक फेस्ट में भारत की समृद्ध संस्कृति और विरासत का जश्न होगा। सीजन 4 के साथ दर्शकों को इंतजार भी खत्म होगा। इस अर्थ फेस्ट में जश्न मनाने के लिए खासतौर पर दुनियाभर के साथ भारत के कई प्रतिष्ठित हस्तियां एक मंच पर होगी। इस जश्न को यादगार मनाया जाएगा। अर्थ – ए कल्चर फेस्ट का चौथा सीजन दर्शकों के लिए कुछ खास होगा।

इसमें भारतीय कला,संस्कृति,सिनेमा,खेल राजनीति और आस्था जैसे क्षेत्रों के दिग्गजों के साथ कुछ खास चर्चा होगी। इसमें दर्शक भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष – बैजयंत जय पांडा, तिरुवनंतपुरम के सांसद – डॉ शशि थरूर, और अभिनव प्रकाश, आनंद रंगनाथन, अनुपम खेर, अश्विन सांघी जैसी अन्य प्रसिद्ध हस्तियों जैसे प्रख्यात पैनलिस्ट भी देखेंगे। इसी के साथ अर्थ के मंच पर इस बार अवनि लेखारा, एकता कपूर, गौतम चिकरमाने, हर्ष गुप्ता मधुसूदन, हिंडोल सेनगुप्ता, जे. साई दीपक, मीनाक्षी जैन, राहुल ईश्वर, रजत सेठी, राजीव मंत्री, संजीव सान्याल, शेफाली वैद्य, शुभ्रस्थ, तुषार कपूर, विवेक अग्निहोत्री आदि होंगे।

Read More : अब हर महीने आपको पेंशन में होगा बड़ा फायदा, खाते में आएंगे 60 हजार रुपए

एक ओर जहां अर्थ में इस बार भारतीय सिनेमा जगत के हर सफर की कहानी होगी। वहीं दूसरी ओर खेल जगत में क्रिकेट की दीवानगी और उससे आगे की कहानी भी लोगों के सामने होगी। इसी के साथ भारत के नेशनल कैरियर एयर इंडिया की कहानी भी इस मंच से दुनिया के सामने आएगी। हमारी सभ्यता में भारतीय आध्यात्मिकता की भूमिका के साथ विभिन्न विषयों पर प्रतिष्ठित लोगों की राय होगी। अर्थ के मंच पर वर्तमान राजनीति में भारत की भूमिका भी दुनिया के सामने होगी। दर्शक 18 से 20 फरवरी 2022 तक अर्थ ए कल्चरल फेस्ट के यूट्यूब और फेसबुक पेजों पर दर्शक देख सकते हैं।

इस बार अर्थ – ए कल्चर फेस्ट का सीजन पैनल चर्चाओ का विशेष टीवी प्रसारण भी किया जाएगा।भारतीय कला का प्रदर्शन ज़ी टीवी, एंड टीवी, ज़ी पंजाबी, ज़ी मराठी, ज़ी कैफे सहित ज़ी के करीब 20 चैनलों पर प्रसारित किया जाएगा। मंच पर भारतीय नृत्य के माध्यम से भारत की विरासत को देखने को मौका दर्शकों को मिलेगा।कुमार विश्वास की शायरी के साथ अर्थ के मंच पर अमन और अयान अली खान का स्पेशल म्यूजिक प्रोग्राम होगा। इसी के साथ बी प्राक के गीतों के साथ सारेगामापा की टीम भी विशेष संगीत प्रस्तुति होगी।

Read More : Coindcx ने एंटी-मनी लॉन्ड्रिंग सुरक्षा बढ़ाई, Solidus Labs के साथ की साझेदारी

उत्सव के बारे में बोलते हुए, श्रेयसी गोयनका, संस्थापक, अर्थ – ए कल्चर फेस्ट और सह-निदेशक, सात साथ आर्ट्स फाउंडेशन ने कहा कि एक संस्कृति उत्सव का मुख्य उद्देश्य हमेशा भारतीयों को उनकी जड़ों से जोड़ना और उनकी मदद करना रहा है। भारत की समृद्ध विरासत को देश के सामने प्रस्तुत करना है। भारत अपनी स्वतंत्रता के 75वें वर्ष में प्रवेश कर रहा है हम इस जश्न को कुछ खास बनाने की कोशिश कर रहे है। इसी के हमारे देश में स्वतंत्रता के जश्न मनाने के साथ हमारे पास उद्योग के दिग्गजों का एक अविश्वसनीय लाइन अप भी होगा जो हमारे साथ चर्चा पर मंच पर होगा। अर्थ के चौथे सीजन में दर्शकों को जानने का मौका मिलेगा की भारत का सही अर्थ क्या है।

लां पर टिप्पणी करते हुए, ज़ी लाइव के मुख्य व्यवसाय अधिकारी स्वरूप बनर्जी ने कहा कि हमारा प्रमुख आईपी, अर्थ – ए कल्चर फेस्ट इस फरवरी में अपने चौथे सीज़न में वापस आ गया है। जो बात इस संस्करण को और भी खास बनाती है वह यह है कि हम आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं क्योंकि भारत अपनी आजादी के 75वें वर्ष में प्रवेश कर रहा है। इस सीजन में हमने जश्न को एक पायदान ऊपर ले लिया है। इसमें खासतौर पर सारेगामापा के प्रतिभागियों के संगीतों की धुनों के साथ बी प्राक के देशभक्ति के गीत इस जश्न को और खास बनाएंगे।

इस जश्न एक मील का पत्थर होगा जिसमें कवि कुमार विश्वास की कविताओं की एक शाम में कविताओं के जरिए इस जश्न में चार चांद लगेंगे। इसी के साथ विशेषज्ञों,सांसदों और प्रतिष्ठित व्यक्तियों के बीच एक खास चर्चा होगी पहली बार इस कार्यक्रम को हिंदी एंटरटेनमेंट, मूवीज, इंग्लिश एंटरटेनमेंट, लाइफस्टाइल और क्षेत्रीय चैनलों सहित ज़ी एंटरटेनमेंट के चैनल के साथ इस फेस्ट को 20 चैनलों पर प्रसारित किया जाएगा। अर्थ फेस्ट के एक और सीज़न के माध्यम से, हम ज़ी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज में इस कठिन समय में भी अपने दर्शकों का मनोरंजन करने और उन्हें जोड़ने का अपना वादा निभाते हैं।

अपने विचार साझा करते हुए, विक्रम संपत, फेस्टिवल डायरेक्टर, अर्थ – ए कल्चर फेस्ट, लेखक और इतिहासकार ने कहा, “पिछले दो साल हम सभी के लिए सीखने की अवस्था के अलावा और कुछ नहीं रहे हैं। हमने खुद को आगे बढ़ाया है इस वक्त में हम और भी मजबूत होकर बाहर आए हैं। अर्थ ए कल्चर फेस्ट के तीसरे सीज़न की सफलता से उत्साहित, हम उत्सव की एक अनूठी थीम के साथ वापस आए हैं। भारत की आजादी के 75 साल का जश्न। अर्थ का यह चौथा सीजन पिछले 75 वर्षों में भारत को आकार देने वाली हर चीज को सामने लाने का वादा करता है। दर्शक अर्थ के इस विशेष रूप से क्यूरेट किए गए चौथे सीजन में वैश्विक मंच पर भारत का प्रतिनिधित्व करने वाली विशिष्ट हस्तियों द्वारा शानदार चर्चाओं की प्रतीक्षा कर सकते हैं।”

अर्थ के पहले 3 सीज़न ने कोलकाता और दिल्ली की यात्रा की और माननीय केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, भारत के सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी, माननीय केंद्रीय महिला और बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी जैसे प्रतिष्ठित नेताओं और वक्ताओं की उपस्थिति देखी। सुब्रमण्यम स्वामी, असदुद्दीन ओवैसी, रविशंकर, गौर गोपाल दास, इम्तियाज अली, रवीना टंडन, राकेश ओमप्रकाश मेहरा, और कई अन्य जैसे अन्य प्रसिद्ध व्यक्तित्व भी देखे। पिछले संस्करणों में पीयूष पांडे, प्रसून जोशी, मनोज मुंतशिर, अमीश त्रिपाठी, आंचल मल्होत्रा, रस्किन बॉन्ड, सुधा मूर्ति, अश्विन सांघी और मंदिरा बेदी जैसे प्रख्यात लेखकों और कवियों की भी मेजबानी की गई थी।

अर्थ-ए कल्चर फेस्ट के बारे में –

अर्थ – ए कल्चर फेस्ट ज़ी की एक बौद्धिक संपदा है और इसने विभिन्न क्षेत्रों के प्रतिष्ठित लेखकों, इतिहासकारों, वैज्ञानिकों, राजनेताओं, खिलाड़ियों और दिग्गजों के साथ तीन सीज़न सफलतापूर्वक पूरे किए हैं। अर्थ केवल एक त्यौहार नहीं है, बल्कि एक संस्कृति खोज है जो भारतीय संस्कृति के अर्थ को जीवित रखेगी। यह त्यौहार साहित्य, संस्कृति, समाज, संगीत, परंपराओं, इतिहास और कला पर केंद्रित है। अर्थ कला और संस्कृति के प्रेमियों के लिए भारतीय संस्कृति को उसके सभी आयामों में सीखने और मनाने का एक मंच है।

ज़ी लाइव के बारे में –

जी लाइव, जील का लाइव एंटरटेनमेंट और आईपी वर्टिकल है जो कल्चर, एजुकेशन, कॉमेडी, म्यूजिक, गेमिंग और किड्स में लाइव ओरिजिनल कंटेंट, लाइवस्ट्रीम और ऑन-ग्राउंड आईपी बनाता है। जी लाइव का एक ब्रांडेड ओरिजिनल कंटेंट डिवीजन भी है जो क्लाइंट के स्वामित्व वाली उपभोक्ता संपत्तियों पर केंद्रित है। इसका उद्देश्य विदेशों में घरेलू सामग्री को ले जाना और वैश्विक उत्पादकों के साथ सहयोग करना है ताकि घर पर प्रतिष्ठित लाइव मनोरंजन अनुभव लाया जा सके। जी लाइव के कुछ प्रमुख आईपी में शामिल हैं सुपरमून, अर्थ – ए कल्चर फेस्ट, इंडिया शायरी प्रोजेक्ट, और इट्स ए गर्ल थिंग इंडिया। इन आईपी के अलावा, जी लाइव ने ग्लोबल सिटीजन लाइव और भारत के 52वें अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (आईएफएफआई) जैसी विशेष परियोजनाओं में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।