Breaking News

गर्भवती महिलाओं को रोज करना चाहिए ये योगासन

Posted on: 21 Jun 2018 08:38 by shilpa
गर्भवती महिलाओं को रोज करना चाहिए ये योगासन

नई दिल्ली : गर्भावस्था का समय एक महिला और उसके परिवार के लिए बहुत ही खास समय होता है। महिलाए इस समय अपने खानपान और स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देती है। लेकिन इसके बावजूद भी एक तनाव का माहौल हर समय बना रहता है की हमसे कोई गलती ना हो जाये। और माँ और होने वाले बच्चें में कोई दिक्कत ना आये। इस अवस्था में माँ को मन की शांति बनाए रखना चाहिए। और आपके तन और मन को शांत रखने के लिए कुछ योगासन का लाभ लिया जा सकता है।

गर्भावस्था में योगासन  

Image result for titli asana during pregnancy

via

तितली आसन –
शरीर के लचीलापन के लिए तितली आसान बहुत सहायक है। तितली आसान को गर्भवस्था के तीसरे महीने से कर सकते है। शरीर के लचीलेपन को बढ़ाने के लिए यह आसान किया जाता है। इसे करने से शरीर के निचले हिस्से का तनाव खुलता है। इससे प्रजनन के दौरान गर्भवती महिला को दिक्कत कम होती है। यदि यह प्रोसेस को करते वक़्त आपको कमर के निचले हिस्से मे दर्द महसूस होता हो तो इसे बिल्कुल ना करे।

पर्वतासन –
पर्वतासन कमर दर्द दूर करने मे मदद करता है। प्रेगनेंसी मे पर्वतासन करने से कमर के दर्द से निजाद मिलती है। इसे करने से आगे चलकर शरीर बेडोल नहीं होता है।

शवासन –
गर्भावस्था के दौरान शवासन करने महिलाओं को मानसिक शांति मिलती है। यह एक बेहतरीन प्रेगनेंसी योग है।

उष्ट्रासन –

उष्ट्रासन रीढ़ की हड्डी मजबूत करने के लिए किया जाता है। इस आसन को रोजाना करने से रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है। इसे करने से ब्लड सर्क्युलेशन नियमित रूप से चलता है और एनर्जी लेवेल बढ़ता है।

अनुलोम विलोम –
अनुलोम विलोम ब्लड सर्क्युलेशन बेहतर के लिए मदद करता है। गर्भवस्था मे अनुलोम-विलोम आसन सबसे बेस्ट आसान है। इस आसन को करने से ब्लड सर्क्युलेशन कंट्रोल होता है। प्रेगनेंसी मे तनावरहित रहने के लिए इस आसन को तो आप ज़रूर करे।

मार्जारी आसन –

मार्जारी आसन को करने से शरीर में फ्लेक्सिब्लिटी आती है। यह आसन दिमाग को शांत रखता है तथा इससे पाचन क्रिया सही रहती है और रक्त संचार में भी बढ़ोतरी होती है।

वक्रासन – वक्रासन रीढ़ की हड्डी, पैर और गर्दन का अच्छा व्यायाम है जिसे करते वक्त ध्यान रखना चाहिए कि गर्भवती महिलाएं इसमें अधिक जोर न लगाएं।

  यदि आप भी गर्भवती है तो खुद के लिए और स्वस्थ्य बच्चे को जनम देने के लिए योग को अपनाइये।

योग आसन करने से पहले अपने डॉक्‍टर की सलाह जरूर लें। योग को योग शिक्षक के देखरेख में ही करे।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com