शिवराजसिंह चौहान ने देश के पहले प्रधानमंत्री को क्यों बताया अपराधी, जानें पूरा मामला

0
103
shivraj- Singh- Chouhan

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर से धारा-370 व 35ए हटाने के बाद देश में सियासी उबाल कम होने का नाम नहीं ले रहा है। विपक्षी पार्टियां मोदी सरकार पर कानूनों को ताक में रखने का आरोप लगा रहे हैंै, तो भाजपा नेता भी आरोपों का जवाब देने में पीछे नहीं हैं। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने धारा-370 को लेकर कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। शिवराजसिंह ने कश्मीर के हालात को लेकर देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू जिम्मेदार ठहराया, बल्कि अपराधी तक बता दिया।

दरअसल, पूर्व सीएम शिवराजसिंह चौहान ने ओडिशा में मीडिया से चर्चा करते हुए कश्मीर मामले में पंडित नेहरू को अपराधी बता दिया है। उन्होंने कहा, जवाहर लाल नेहरू एक अपराधी थे। जब भारतीय सेना कश्मीर में पाकिस्तानी कबाइलियों को खदेड़ते हुए आगे बढ़ रही थी, तब उन्होंने युद्ध विराम की घोषणा की। एक तिहाई कश्मीर को पाकिस्तान ने अधिकृत कर लिया। यदि कुछ और दिनों तक युद्ध विराम की घोषणा न की गई होती तो पूरा कश्मीर आज हमारा होता। उन्होंने कहा कि पंडित नेहरू का दूसरा अपराध अनुच्छेद 370 था।

भला एक देश में कैसे दो निशान, दो विधान (संविधान) और दो प्रधान अस्तित्व में हो सकते हैं? यह केवल देश के साथ अन्याय नहीं, बल्कि अपराध भी है। संसद ने हाल ही में जम्मू-कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा वापस लिया है और दोनों सदनों ने जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल को मंजूरी दे दी है। जिसके तहत जम्मू-कश्मीर को अब दो हिस्सों में बांटकर केंद्र शासित प्रदेश बनाया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here