टेलीकॉम सेक्टर : 5 जी स्पेक्ट्रम नीलामी में शामिल हुआ अडानी ग्रुप, रिलायंस के जियो और एयरटेल को दे सकता है टक्कर

जियो, एयरटेल और वोडाफोन आइडिया के साथ ही अडानी ग्रुप ने भी 26 जुलाई 2022 को होने वाली 5 जी स्पेक्ट्रम नीलामी में सम्मिलित होने का आवेदन दिया है, मुकेश अम्बानी को पछाड़कर एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति बने थे गौतम अडानी

टेलीकॉम सेक्टर की तीन प्राइवेट कंपनियां जियो (Jio), एयरटेल (Airtel)और वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) के साथ ही अडानी ग्रुप ने भी 26 जुलाई 2022 को होने वाली 5 जी स्पेक्ट्रम नीलामी में सम्मिलित होने का आवेदन दिया है। अडानी ग्रुप ने हाल ही में नेशनल लॉन्ग डिस्टेंस (NLD) और इंटरनेशनल लॉन्ग डिस्टेंस (ILD) लाइसेंस प्राप्त किए हैं। आंकलन के अनुसार अडानी ग्रुप टेलीकॉम सेक्टर में अपने पैर जमाने की तैयारी में है और माना जा रहा कि टेलीकॉम सेक्टर की अग्रणी कंपनियों जियो, एयरटेल और वोडाफोन आइडिया को टेलीकॉम व्यवसाय में टक्कर दे सकता है।

Also Read-भारतीय जीवन बीमा निगम : एलआईसी का सरल पेंशन प्लान, साबित हो सकता है बुढ़ापे की लाठी

मुकेश अम्बानी को पछाड़कर एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति बने थे गौतम अडानी

फरवरी 2022 में गौतम अडाणी शीर्ष उद्योगपति मुकेश अंबानी को पछाड़कर एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति बन गये थे। गुजरात मूल के शीर्ष उद्योगपति मुकेश अंबानी और गौतम अडानी दोनों अलग-अलग सेक्टर में काम करते आए हैं। अम्बानी ग्रुप व अडानी ग्रुप के बीच कोई व्यवसायिक प्रतिस्पर्धा अभी तक देखने को नहीं मिली थी। मुकेश अंबानी ग्रुप समूह टेलीकॉम और रिटेल सेक्टर, तेल, रिफाइनरी और पेट्रोकेमिकल्स में व्यवसाय करता है जबकि अडानी समूह पोर्ट, कोयला, ग्रीन एनर्जी, बिजली वितरण और एविएशन सेक्टर में कार्यरत है। अडानी ग्रुप ने पेट्रोकेमिकल सेक्टर में प्रवेश और रिलायंस ग्रुप ने ग्रीन एनर्जी सेक्टर में प्रवेश करके पहली बार प्रत्यक्ष प्रतिस्पर्धा है।

Also Read-जम्मू और कश्मीर : अमरनाथ में जारी है रेस्क्यू ऑपरेशन, 40 से अधिक लोग अभी भी लापता