चेक बाउंस मामले में सुरेंद्र पटवा दोषी करार, कोर्ट ने सुनाई 6 माह की सजा

0

भोपाल। मध्यप्रदेश के पूर्व मंत्री और भोजपुर से भाजपा विधायक सुरेन्द्र पटवा को भोपाल की विशेष कोर्ट ने उन्हे चेक बाउंस और जानबूझकर रकम न लौटाने जैसे चार मामलों में दोषी पाया है और उन्हे सभी मामलों में 6-6 महीने की जेल और 30 लाख रुपए के जुर्माने की सजा सुनाई है। बता दे कि सांसदों और विधायकों के मामले की सुनवाई कर रहे विशेष न्यायाधीश सुरेश सिंह द्वारा बुधवार को यह निर्णय दिया गया है। हालांकि, पटवा को जमानत मिल गई और वह हाई कोर्ट में अपील करेंगे।

बताया जा रहा है कि बीजेपी विधायक ने अपने कामकाज को लेकर इंदौर निवासी प्रकाश सशीत्तल से साल 2017 में 12 लाख और उनकी पत्नी मीनाक्षी सशीत्तल से आठ लाख रुपए उधार लिए थे। प्रकाश पेशे से बैंकर और उनकी पत्नी शिक्षक हैं। वहीं उधारी की रकम लौटाने के लिए सुरेंद्र पटवा ने प्रकाश और मीनाक्षी को अलग-अलग चेक दिए। लेकिन जब दंपत्ति ने भुगतान के लिए चेक बैंक में पेश किए तो वे बाउंस हो गए।

दंपत्ति ने ली कोर्ट की शरण

चेक बाउंस होने पर प्रकाश और मीनाक्षी ने पअवा को नोटिस भेजकर 20 ला रुपए की मांग की। रकम ने मिलने पर मामला कोर्ट पहुंचा। जहां विशेष न्यायाधीश सुरेश सिंह ने दोनों मामलों में सुरेंद्र पटवा को दोषी मानते हुए 12 लाख के मामले में 18 लाख जुर्माना और 8 लाख के मामले में 12 लाख रुपए के जुर्माने और छह महीने की जेल की सजा सुनाई।

कोर्ट द्वारा सुनाए गए फैसले के बाद बीजेपी विधायक ने हाई कोर्ट से स्थगन लाने के लिए एक माह का समय मांगा और अपील दायर की। जिस पर कोर्ट ने पटवा को 25-25 हजार रुपए की जमानत पेश करने पर एक महीने का समय देते हुए जमानत पर रिहा कर दिया।