Breaking News

रीवा : गोविंदगढ़ थाना प्रभारी की कारगुजारियों से त्रस्त हुई जनता, करेगी आंदोलन

Posted on: 01 Jul 2019 19:29 by bharat prajapat
रीवा : गोविंदगढ़ थाना प्रभारी की कारगुजारियों से त्रस्त हुई जनता, करेगी आंदोलन

मध्यप्रदेश के रीवा जिले में पुलिस प्रशासन पुलिस की छवि को अच्छा बनाने में जुटा हुआ है। लेकिन जिले के एक थाना प्रभारी द्वारा अपने ही महकमें की कोशिशों पर पानी फेरा जा रहा है। दरअसल यहां के गोविंदगढ़ थाना प्रभारी एसके गुप्ता की कारगुजारियों के चलते उनके थाना क्षेत्र की जनता परेशान है और आईजी कार्यालय का घेराव कर अपनी समस्या से अवगत कराने की तैयारी कर रही हैं।

दरअसल यहां के क्षेत्रवासियों का कहना है कि गोविंदगढ़ में जब निरीक्षक एसके गुप्ता पहली बार थाना प्रभारी बनकर आए थे तभी से क्षेत्र में अराजकता का माहौल निर्मित हो गया था। जिस कारण तत्कालीन एसपी ने इन्हें हटा भी दिया था लेकिन अपने राजनैतिक रसूख के दम पर गुप्ता दोबारा गोविंदगढ़ थाने के प्रभारी बनने में सफल हो गए थे। जिसके बाद से ही बेलगाम कार्यप्रणाली की शुरूआत हो गई।

थाना क्षेत्र के लोगों का कहना है कि गोविंदगढ़ थाना किसी नियम या कानून का मोहताज नहीं है वहाँ तो केवल थाना प्रभारी एसके गुप्ता का खुद का एक अलग ही कानून चलता है। जिसको लकर यहां के लोगों में काफी आक्रोश है।

जनता के अलावा स्टाफ भी परेशान

बताया जा रहा है कि थाना प्रभारी एसके गुप्ता से उनके थाना क्षेत्र की जनता के अलावा उनका स्टाफ भी परेशान है। खबर है कि अपनी मनमानी और के रौब के दम पर एसके गुप्ता अपनी तिजोरी भरने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं और अपनी स्वयं की लग्जरी गाड़ी से थाना क्षेत्र में घूमते दिख जाते हैं। जिसके चनते थाने का स्टाफ अपने प्रभारी से काफी नाखुश है।

‘दम है तो रोक लो’

आरोप है कि थाना प्रभारी गुप्ता ने थाने में बने रहने के लिए एक मंत्री से भोपाल में पैसों की साठ-गांठ भी कर रखी है। जिसके चलते वह अपना रौब झाड़ते हुए नजर आते हैं। स्थ्ज्ञानीय लोगों का यह भी कहना है कि थाना प्रभारी एक डायलाग भी बोलते हैं कि- ‘दम है तो रोक लो’

रीवा पुलिस हो रही दागदार

गोविंदगढ़ थाना प्रभारी गुप्ता का ये रवैया जिले में पुलिस प्रशासन की साख के लिए मुसीबत बनता नजर आ रहा है। साथ ही गुप्ता अपनी कारगुजारियों से भी रीवा पुलिस को दागदार करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। जिसके चलते थाना प्रभारी को हटाने के लिए सोशल मीडिया पर जनता ने मुहिम भी शुरू कर दी है बताया जा रहा है कि यहां की जनता थाना प्रभारी के खिलाफ आंदोलन भी कर सकती है।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com