धर्मव्रत / त्यौहार

जैनधर्म: महापर्व “पर्युषण” 15 से 22 अगस्त तक, श्रद्धालु घर बैठे सुन सकेंगे लाइव प्रवचन

  • पर्युषण महापर्व पर आचार्य लोकेशजी के सान्निध्य में प्रवचन माला का आयोजन होगा
  • श्रद्धालु घर बैठे फ़ेसबुक लाइव प्रसारण से प्रवचन सुन सकेंगे – आचार्य लोकेश

जैन धर्म के सर्वाधिक महत्वपूर्ण पर्युषण महापर्व में अहिंसा विश्व भारती के संस्थापक प्रख्यात जैनाचार्य डॉ लोकेशजी के सान्निध्य में विविध विषयों पर ऑनलाइन व्याख्यानमाला का आयोजन किया गया है, उलेखनीय है कि कोरोना महामारी के दौरान संक्रमण से बचाव के मद्देनजर ये व्याख्यानमाला अहिंसा विश्व भारती के फ़ेसबुक पेज से सीधा प्रसारण (लाइव ) होगा । दिनांक 15 से 22 अगस्त तक प्रतिदिन भारतीय समयानुसार साय 9 बजे से यह कार्यक्रम प्रसारित होगा जिसे देश-दुनिया के श्रद्धालु अनुयायी घर बैठे आगम-आधारित भगवान महावीर की वाणी के प्रवचनों को सुनकर पर्युषण पर्व की आराधना कर सकेंगे।

उलेखनीय है कि जैन धर्म के प्रमुख महापर्व पर्युषण के दौरान बहुत बड़ी संख्या में श्रद्धालु भाई-बहन अपने आपको त्याग-तपस्या, ध्यान-स्वाध्याय आदि विविध आध्यात्मिक अनुष्ठानों से अपनी आत्मा को पवित्र निर्मल बनाते है । जैन धर्म में जन्म लेने वाले प्रत्येक श्रद्धालु की यह अभिलाषा होती है कि पर्युषण महापर्व के दौरान वह अधिक से अधिक धर्म आध्यात्मिक प्रवृत्तियों में सम्मिलित रहे। चूंकि इस वर्ष कोरोना महामारी संक्रमण के मद्देनजर सभी जैनाचार्यों भीड़-भाड़ रहित आत्माराधना के कार्यक्रम करने का निश्चय किया है।

अहिंसा विश्व भारती के प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि इस वर्ष पर्युषण महापर्व, प्रमुख राष्ट्रीय त्योहार स्वाधीनता दिवस 15 अगस्त 2020 से शुरू होकर 22 अगस्त 2020 को सम्पन्न होगा। इस अवसर पर प्रखर चिंतक, लेखक एवं ओजस्वी वक्ता आचार्य लोकेशजी के भगवान महावीर की वाणी के अनुसार आगम-आधारित विविध विषयों पर प्रवचन होंगे । उलेखनीय है कि प्रखर क्रांतिकरी वक्ता पूज्य आचार्य श्री के प्रवचनों को सुनने के लिए देश-दुनिया के श्रद्धालु उत्सुक है । तिथि अनुसार कार्यक्रम विवरण निम्न प्रकार है :-

15 अगस्त शनिवार :- पर्युषण पर्व और स्वतंत्रता
‪16 अगस्त रविवार :- आहार और अध्यात्म
‪17 अगस्त सोमवार :- सिद्धि का द्वार जपोयोग
‪18 अगस्त मंगलवार :- मुक्ति का मार्ग तपोयोग
‪19 अगस्त बुधवार :- शांति का संदेश ध्यानयोग
‪20अगस्त गुरूवार:- ज्ञान का मार्ग स्वाध्याययोग
‪21 अगस्त शुक्रवार :- अध्यात्म का सार समता योग
‪22 अगस्त शनिवार :- क्षमा वीरों का आभूषण