शेयर बाजार के किंग राकेश झुनझुनवाला ‘भेदिया कारोबार‘ में फंसे, सेबी का चला डंडा

0

नई दिल्ली। भारतीय शेयर बाजार के सबसे बड़े निवेशक राकेश झुनझुनवाला एक फर्जीवाड़े के मामले में फंस गए हैं और उनके खिलाफ जांच की जा रही है। बाजार नियामक सेबी ( सेक्योरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया ) झुनझुनवाला के खिलाफ भेदिया कारोबार के मामले में जांच कर रही है।

बताया जा रहा है कि इस मामले से जुड़े सूत्रों का कहना है कि सेबी यह जांच एप्टेक लिमिटेड के शेयरों से जुड़े मामले में कर रही है। एप्टेक लिमिटेड झुनझुनवाला और उनके परिवार की एक एजुकेशन कंपनी है। सेबी इस परिवार के दूसरे सदस्यों की भूमिका की भी जांच कर रहा है। ये सदस्य कंपनी में शेयरधारक है।

इतना ही नहीं, मामले में निवेशक रमेश एस दमानी और कंपनी में निदेशक मधु जयाकुमार सहित कुछ बोर्ड मेंबर्स के रोल की भी जांच की जा रही है। पूछताछ के लिए झुनझुनवाला वकीलों के साथ पहुंचे थे और उन्होंने कहा था कि वह अपने परिवार का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। इससे पहले 23 जनवरी को झुनझुनवाला की बहन सुधा गुप्ता को भी सेबी ने बुलाया था।

साथ ही 28 जनवरी को उनकी एसेट मैनेजमेंट फर्म रेयर एंटरप्राइजेज के सीईओ उत्पल सेठ की बहन और ऐप्टेक में निदेशक ऊष्मा सेठ सुले को पूछताछ के लिए बुलाया है। बताया जा रहा है कि झुनझुनवाला द्वारा सेबी कानून 1992 का उल्लंघन करते हुए इनसाइडर ट्रेडिंग की गई है।