अल्प समय में जनहित और प्रदेश के विकास के फैसले एक रिकार्ड : CM कमलनाथ

0
12
kamalnath

मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा है कि अल्प समय में विरासत में मिले खाली खजाने के साथ हमने जन हित के जो फैसले लिए हैं वह एक रिकार्ड है। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश के इतिहास की सबसे बड़ी किसानों की ऋण माफी का निर्णय हुआ जिससे कर्ज के बोझ तले 20 लाख किसान प्रथम नौ माह में ही ऋण से मुक्त हो गए। उन्होंने कहा कि वितीय चरण में सरकार लगभग 12 लाख किसानों के ऋण माफ कर रही है। प्रक्रिया शुरू है। मुख्यमंत्री ने पूर्ववर्ती भाजपा सरकार पर आरोप लगाया कि उसके 15 साल विकास की बजाए जुमलेबाजी, घोषणाएँ की और सिर्फ अपना चेहरा चमकाते रहे।

मुख्यमंत्री आज झाबुआ में विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया के पक्ष में रोड शो करके कल्याणपुरा में एक विशाल जनसभा को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कांग्रेस प्रत्याशी के पक्ष में दस किलोमीटर से अधिक रोड शो किया। उन्होंने बाद में एक आमसभा को संबोधित किया।

नाथ ने कहा मध्यप्रदेश में किसानों और आदिवासी भाईयों को आज सबसे अधिक मदद की जरूरत है। सरकार ने इन वर्गों के साथ मध्यप्रदेश में युवाओं को रोजगार देने के लिए नई संभावनाओं पर काम शुरू किया है। उन्होंने कहा कि आने वाले 5 वर्ष में हम सभी वर्गों के विकास के साथ इस प्रदेश को एक बेहतर प्रदेश के रूप में पूरे देश में स्थापित करेंगे और सिर्फ जुमला नहीं होगा हकीकत होगी। क्योंकि कांग्रेस जो कहती है वह करती है। जबकि भाजपा की कथनी करनी में अंतर है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के आदिवासियों भाइयों के लिए हमने कर्ज माफी से एक कदम आगे जाकर साहूकारी ऋण से मुक्त करने का फैसला लिया है जो पिछले 15 अगस्त 2019 से लागू हो गया है। उन्होंने कहा कि आदिवासी भाईयों को फिर से साहूकारों की जरूरत न पड़े इसके लिए उन्होंने एटीएम से दस हजार रुपए तक निकालने के लिए रुपे कार्ड दिया है। निरस्त वनाधिकार पट्टों का व्यापक पैमाने पर पुनरीक्षण किया जा रहा है। आने वाले समय में जितने भी पात्र आदिवासी भाई होंगे उन्हें वनाधिकार अधिनियम के तहत पट्टे दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि लगभग साढ़े तीन लाख पट्टे पिछली सरकार की वजह से निरस्त हो गए थे। इन सभी का पुनरीक्षण किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इतना सब काम कर पाना आसान नहीं था खासतौर से उस समय जब पूर्ववर्ती भाजपा सरकार ने सरकार का पूरा खजाना अपने हित में लुटाकर हमें खाली तिजोरी सौंपी थी। उन्होंने कहा कि हम हर चुनौती का मुकाबला कर रहे है। जनता से मिली ताकत का उपयोग हम प्रदेश के विकास और सभी वर्गों की भलाई के लिए कर रहे है।

आम सभा में जनसंपर्क मंत्री पी.सी. शर्मा, गृह मंत्री बाला बच्चन, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री कमलेश्वर पटेल, कांग्रेस प्रत्याशी कांतिलाल भूरिया एवं बड़ी संख्या में आदिवासी भाई उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here