Indore : BJP सरकार के 2 साल पूरे होने पर अध्यक्ष रणदिवे ने पत्रकारों से की बातचीत

भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे (Gaurav Ranadive) ने भाजपा सरकार के 2 वर्ष पूर्ण होने पर जावरा कम्पाउण्ड स्थित भाजपा कार्यालय पर पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए सरकार की उपलब्धियों के बारे में जानकारी दी

इंदौर(Indore News): भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे (Gaurav Ranadive) ने भाजपा सरकार के 2 वर्ष पूर्ण होने पर जावरा कम्पाउण्ड स्थित भाजपा कार्यालय पर पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए सरकार की उपलब्धियों के बारे में जानकारी दी, गौरव रणदिवे ने बताया कि माननीय मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के चौथे कार्यकाल के 2 वर्ष पूर्ण हो चुके हैं इन 2 वर्षों में माननीय मुख्यमंत्री के नेतृत्व की भाजपा सरकार ने कई उपलब्धियां अर्जित की हैं कोरोना के भीषण संकट के बीच में हमारी सरकार बनी थी।

इसके बावजूद मुख्यमंत्री शिवराजसिंह के नेतृत्व में सरकार और संगठन ने हर स्तर पर मानवता को बचाने का काम किया और विकास को भी अवरुद्ध नहीं होने दिया, आज मुझे इस बात की खुशी है कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की संभावनाओं से भरी हुई सरकार कार्य कर रही है चाहे किसान हो, युवा हो,बेटियां हो, महिला हो या बुजुर्ग हो सभी के लिए भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने दिन-रात चिंतन करते हुए कल्याणकारी योजनाओं की एक लंबी श्रृंखला खड़ी की है।

Read More : Chaitra Navratri 2022 : चैत्र नवरात्रि पर बन रहे ये 4 शुभ योग, इन कामों के लिए है सबसे ज्यादा फलदायी

अगर बात अर्थव्यवस्था की की जाए तो आज मध्यप्रदेश देश के अग्रणी राज्यों में शामिल हुआ है आज मध्य प्रदेश का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) निरंतर बढ़ रहा है वर्तमान प्रचलित दरों पर 19. 74 प्रतिशत विकास दर हासिल करने में हम सफल हुए हैं जो देश में सर्वाधिक है, प्रति व्यक्ति आय बढ़कर 1 लाख 24 हजार प्रति वर्ष से भी अधिक हो गई है।
मध्यप्रदेश देश में नंबर वन प्रदेश बनकर उभरा है, स्वच्छता में इंदौर ने पांचवीं बार रिकॉर्ड बनाया है आज इंदौर देश के सभी राज्यों के लिए आइकॉन बन चुका है।

आयुष्मान भारत योजना के तहत अब तक 2 करोड़ 66 लाख से अधिक आयुष्मान कार्ड बनाने के साथ मध्य प्रदेश नंबर वन पर है कोरोना संकट के बावजूद प्रदेश सरकार ने किसानों से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेहूं की खरीदी पर देश भर में खरीदी का नया रिकॉर्ड कायम किया है, माननीय प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के क्रियान्वयन में मध्यप्रदेश देश में नंबर वन है, प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के अंतर्गत पूर्णता के प्रतिशत के आधार पर मध्य प्रदेश देश के दूसरे स्थान पर है तथा आवास की संख्या के आधार पर देश में तीसरे स्थान पर और अगर सुकन्या समृद्धि योजना की बात की जाए तो 23 लाख खाते खोलकर मध्य प्रदेश देश में नंबर वन है राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लागू करने में भी मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य बना है।

Read More : बेशर्मों की तरह गोलियां मार कर इस इंसान ने की गाय की हत्या, सोशल मीडिया पर उठी इंसाफ की मांग

अपने 2 वर्ष के कार्यकाल में मध्य प्रदेश सरकार ने कई बड़े फैसले भी लिए हैं चाहे मध्य प्रदेश के 88 लाख घरेलू उपभोक्ताओं का 64 हजार करोड़ रुपए का बिजली बिल माफ करना है या फिर सरकारी कर्मचारियों को 11 प्रतिशत महंगाई भत्ता देने का निर्णय लेना हो जो कि 1 अप्रैल 2022 से मिलना प्रारंभ हो जाएगा इसके साथ ही ओमकारेश्वर में आदि शंकराचार्य की 108 फीट ऊंची विशाल प्रतिमा तथा अंर्तराष्ट्रीय स्तर की वेदांतपीठ के लिए 350 करोड़ रुपए का प्रावधान करना हो या पहली बार चाइल्ड बजट प्रस्तुत करना जिसके अंतर्गत बालक बालिकाओं के कल्याण हेतु विभिन्न योजनाओं के लिए 57 हजार 803 करोड़ रुपए का प्रावधान करना हो।

इसके साथ ही धर्मस्वातंत्र विधेयक लागू करना हो जिसमें प्रदेश में किसी भी महिला को जबरन, डराकर बहला-फुसलाकर, झूठ बोलकर, धोखा देकर न तो धर्म परिवर्तन किया जा सकता है और न ही उसके साथ विवाह किया जा सकता है साथ ही मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य है जहां हमारी सरकार ने मासूम बच्चियों के साथ बलात्कार करने वालों को फांसी देने का प्रावधान किया है। अगर आरक्षण की बात करें तो मध्य प्रदेश सरकार ने पिछड़ा वर्ग के कल्याण के लिए ऐतिहासिक पहल करते हुए राज्य पिछड़ा वर्ग कल्याण आयोग का गठन किया है साथ ही न्यायालयीन मामलों को छोड़कर प्रदेश की सरकार ने भर्ती और परीक्षाओं में ओबीसी वर्ग के लिए 27 प्रतिशत आरक्षण लागू करने का फैसला लिया है।

राज्य सरकार द्वारा हाल ही में 8 से अधिक पदों पर भर्तियां की गई जिसमें 27 प्रतिशत आरक्षण का लाभ अभ्यर्थियों को दिया गया है राज्य सरकार की पिछड़ा वर्ग के कल्याण के लिए प्रतिबद्धता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि घोषित हो चुके पंचायत चुनाव के दौरान अपना अध्यादेश वापस लिया जिससे पिछड़ा वर्ग को आरक्षण के साथ चुनाव हो सके। साथ ही सामान्य वर्ग आयोग का गठन कर इस वर्ग के कल्याण का रास्ता भी प्रशस्त किया है आयोग द्वारा सेमिनार किए जा रहे हैं जो सामान्य वर्ग की आवश्यकताओं का विचार विमर्श करेगा और उसकी रणनीति बनाई जाएगी।

अनुसूचित जाति एवं जनजाति वर्ग के लिए प्रदेश सरकार ने 25 लाख जनजातीय बच्चों को 481 करोड़ की स्कॉलरशिप दी है साथ ही अनुसूचित जाति वर्ग के लगभग 20 लाख विद्यार्थियों को 600 करोड़ रुपए की छात्रवृत्ति प्रदान की जाने के प्रावधान किए हैं इसके अलावा हबीबगंज स्टेशन का नाम बदलकर जनजाति समाज की गौरव रानी कमलापति के नाम पर किया गया है इसी प्रकार होशंगाबाद का नाम बदलकर नर्मदापुरम भी किया गया है। युवा उद्यमियों को प्रोत्साहित करने के लिए स्व-रोजगार योजना के अंतर्गत प्रदेश सरकार ने जनवरी 2022 से प्रतिमाह रोजगार दिवस मनाने का निर्णय लिया है।

रोजगार दिवस के माध्यम से विगत 4 माह में 10 लाख स्व-रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए गए हैं मध्यप्रदेश में कई योजनाएं संचालित हो रही हैं इसमें मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना, प्रधानमंत्री स्व निधि योजना, मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता और राष्ट्रीय आजीविका मिशन के माध्यम से युवाओं को स्व-रोजगार के बेहतर अवसर उपलब्ध कराए जा रहे हैं। अगर बात किसान कल्याण की की जाए तो मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने के बाद विगत 2 वर्षों में फसल बीमा, फसल हानि राहत, बिजली सब्सिडी ऐसी कई योजनाओं एवं कार्यक्रमों के माध्यम से किसानों के खाते में 1 लाख 72 हजार करोड़ से अधिक की राशि भेजी गई है साथ ही पिछले 2 वर्ष में शून्य ब्याज दर पर किसानों को 29 हजार करोड़ रुपए से अधिक का ऋण दिया गया है।

गरीब कल्याण के लिए प्रदेश में प्रत्येक गरीब परिवार को एक साथ अनेक योजनाओं का लाभ मिल रहा है चाहे प्रधानमंत्री आवास, भू अधिकार, जल जीवन मिशन, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना, पीएम स्वनिधि और पथ विक्रेता योजना में ब्याज मुक्त ऋण, आयुष्मान भारत योजना जैसी कई योजनाओं का लाभ सीधे गरीब परिवारों को मिल रहा है बेटियों के लिए लाड़ली लक्ष्मी योजना संचालित है साथ ही बेटियों को कॉलेज में प्रवेश लेने पर 25 हजार रुपए की स्कॉलरशिप भी दी जाएगी।

अगर बात कानून व्यवस्था की जाए तो प्रदेश में कांग्रेस के शासन में जहां बुरहानपुर, खंडवा मंदसौर और उज्जैन से लेकर भोपाल तक सिमी का साम्राज्य चलता था आज उसी में आतंकियों का सफाया मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व वाली भारतीय जनता पार्टी की सरकार में हुआ है जेल तोड़कर भागे आतंकियों को चंद घंटे में ही धराशाही कर दिया गया था ,प्रदेश में नक्सली एवं सिमी के नेटवर्क और डाकूओ के दबदबे और गुंडागर्दी का माहौल का सफाया भी भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने किया साथ ही भाजपा सरकार ने शहडोल, जावरा, सिवनी, उज्जैन, इंदौर, भोपाल, जबलपुर, ग्वालियर आदि स्थानों पर जहां जहां अपराधि, भू माफिया सक्रिय हुए वहां बुलडोजर अपना काम कर रहा है।

भाजपा शासन में पिछले 2 वर्षों में खनिज माफिया ड्रग माफिया, शराब माफिया, रेत माफिया, चिटफंड माफिया, सायबर माफिया, मिलावट माफिया, राशन माफिया इन सब की कमर तोड़ कर रख दी है। अगर अधोसंचार की बात की जाए तो पिछले 2 वर्ष में 8 हजार 276 करोड़ों रुपए की लागत से 5322 किलोमीटर लंबाई की सड़कों और 963 करोड़ की लागत से 164 बड़े पुलों का निर्माण किया गया है साथ ही लगभग 18 हजार 700 करोड़ की लागत से 1300 किलोमीटर लंबाई के सड़क मार्गो का उन्नयन किया जा रहा है।

इसके अलावा किसानों को 10 घंटे और घरेलू उत्पादकों को 24 घंटे बिजली की सुविधा प्रदान की जा रही है साथ ही मध्य प्रदेश में बुंदेलखंड ,बघेलखंड ,मालवा निमाड़ ,महाकौशल भिंड ,ग्वालियर ,चंबल आदि क्षेत्रों में उद्योगों का जाल बिछाया जा रहा है इसके अलावा अटल एक्सप्रेसवे (चंबल एक्सप्रेस वे) और नर्मदा एक्सप्रेस वे दोनों प्रदेश की औद्योगिक विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले हैं साथ ही मध्यप्रदेश देश का उभरता हुआ स्टार्टअप हब बन चुका है मध्य प्रदेश में वर्तमान में 1 हजार 800 से अधिक स्टार्टअप स्थापित हो चुके हैं इनमें से 42 प्रतिशत स्टार्टअप महिला उद्यमियों के हैं।
पत्रकार-वार्ता में प्रदेश के सह मीडिया प्रभारी दीपक जैन टीनू, नगर महामंत्री सुधीर कोल्हे, सविता अखण्ड, मीडिया प्रभारी रितेश तिवारी उपस्थित रहें।