विपिन नीमा

इंदौर। अगले साल जनवरी माह में होने वाले दो बड़े इवेंट में अब कुछ ही दिन शेष रह गए है। इवेंट में हिस्सा लेने के लिए देश – विदेश से आने वाले मेहमानों की मेहमाननवाजी के लिए सरकार ने सारी तैयारियां लगभग पूर्ण कर ली। सम्मेलन में उद्घाटन व समापन समारोह के अलावा 5 सत्र होंगे। अंतिम दिन राष्ट्रपति प्रवासी भारतीयों का सम्मान करेंगी। मेहमानों के लिए प्रधानमंत्री के अलावा मप्र के राज्यपाल तथा मुख्यमंत्री तथा विदेश मंत्री की तरफ से भी मेहमानों के लिए भोज रखा गया है। इसी प्रकार खजराना गणेश मंदिर में आने वाले मेहमानों को भगवान गणेश की प्रतिकृति , दुपट्टा व प्रसाद देकर स्वागत किया जाएगा।

ऐसा रहेगा सम्मेलन का शेड्यूल, सांस्कृतिक कार्यक्रम भी होंगे

प्रारम्भिक जानकारी के मुताबिक तीन दिवसीय प्रवासी भारतीय सम्मेलन के लिए जो शेड्यूल प्राप्त हुआ है वो कुछ इस प्रकार है –

◆ पहला दिन –
◆ 8 जनवरी 2023, रविवार

🔻 युवा प्रवासी भारतीय दिवस( यूथ पीबीडी)
● पूर्ण सत्र I: नवाचारों और नई प्रौद्योगिकियों में प्रवासी युवाओं की भूमिका
● मध्य प्रदेश राज्य द्वारा कार्यक्रम – सांस्कृतिक कार्यक्रम

◆ दूसरा दिन
◆ 9 जनवरी 2023, सोमवार

🔹 17वें प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन 2023 का उद्घाटन

● पीबीडी उद्घाटन सत्र
● पूर्ण सत्र (II): अमृत काल में भारतीय हेल्थकेयर इको-सिस्टम को बढ़ावा देने में भारतीय डायस्पोरा की भूमिका: विजन @ 2047
● पूर्ण सत्र (III): भारत की सॉफ्ट पावर का लाभ उठाना – शिल्प, व्यंजन और रचनात्मकता के माध्यम से सद्भावना
● सांस्कृतिक कार्यक्रम

◆ तीसरा दिन
◆ 10 जनवरी 2023, मंगलवार

🔻 17वां प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन समापन समारोह

● पूर्ण सत्र (IV) : भारतीय कार्यबल की वैश्विक गतिशीलता को सक्षम बनाना – भारतीय डायस्पोरा की भूमिका
● पूर्ण सत्र (V): राष्ट्र निर्माण के लिए एक समावेशी दृष्टिकोण की दिशा में प्रवासी महिला उद्यमियों की क्षमता का उपयोग करना

🔻 समापन सत्र और प्रवासी भारतीय सम्मान पुरस्कार समारोह

◆ लंच – डिनर●

🔸 पहला दिन
● लंच – युवा मामले और खेल की तरफ से
● डिनर – मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री की तरफ से

🔹 दूसरा दिन
● लंच – भारत के प्रधानमंत्री की तरफ से
● डिनर – विदेश मंत्री की तरफ से

🔸 तीसरा दिन
● लंच – मध्य प्रदेश के राज्यपाल की तरफ से
● डिनर – अध्यक्ष, आईसीसीआर की तरफ से।

(आईसीसीआर यानी – भारतीय सांस्कृतिक परिषद (इंडियन काउंसिल फॉर कल्चरल रिलेशंस – आईसीसीआर)

गणेशजी की प्रतिकृति तथा प्रसाद देकर होगा मेहमानों का स्वागत

गणपति मंदिर प्रबंधन समिति द्वारा तिल चतुर्थी मेले के साथ ही प्रवासी भारतीय सम्मेलन हेतु आकर्षक विद्युत सजावट की जाएगी। इस मौके पर मेहमानों के मंदिर आगमन पर पारम्परिक गणवेश में अधिकृत पुजारियों द्वारा पूजन करवाया जाकर आकर्षक दुपट्टा,भगवान श्री गणेश की प्रतिकृति,एवम प्रसाद देकर स्वागत किया जाएगा। मन्दिर में संचालित अन्नक्षेत्र, भक्त सदन,प्रवचन हाल,तथा जीरो waste मैनेजमेंट के अंतर्गत खाद एवम अगरबत्ती निर्माण के प्लांट का अवलोकन कराया जाएगा।