इंदौर (Indore News) : संभागायुक्त डॉ. पवन कुमार शर्मा ने आज पीथमपुर भ्रमण के दौरान ऑक्सीजन टैंकर्स के ड्रायवरों के प्रशिक्षण कार्यक्रम का जायजा लिया। इंदौर संभाग में ऑक्सीजन के परिवहन के लिये इससे जुड़े हुये टैंकर्स के ड्रायवरों को विशेष रूप से प्रशिक्षित किया जा रहा है। यह प्रशिक्षण कार्यक्रम भी इसी सिलसिले में पीथमपुर में आयोजित हो रहा है।

बताया गया कि इंदौर में कोरोना कि आशंकित तीसरी लहर से लड़ने की तैयारियां विभिन्न क्षेत्रों में सतत् जारी है संभागायुक्त डॉक्टर पवन शर्मा के मार्गदर्शन में एक ओर जहाँ बच्चों में एंटीबॉडी की जाँच के लिए सीरो सर्वे का कार्य प्रारंभ हो रहा हैं। वहीं दूसरी ओर संभाग के विभिन्न ज़िलों में आक्सीजन की उपलब्धता भी सुनिश्चित की जा रही है। संभागायुक्त डॉ.पवन कुमार शर्मा ऑक्सीजन के उत्पादन पर भी सतत् ध्यान दे रहे हैं। इसी क्रम में उन्होंने आज धार ज़िले के पीथमपुर पहुँचकर इन्हेर्ट गैसेस प्राइवेट लिमिटेड में ऑक्सीजन टैंकर्स के ड्रायवरों के लिए आयोजित 07 दिवसीय व्यावहारिक प्रशिक्षण में सम्मिलित हुये और ड्रायवरों से चर्चा भी की।तहसीलदार पीथमपुर श्री विनोद राठौड़ ने बताया कि यहॉ लगभग 120 ड्राइवर्स को ट्रेनिंग दी गई है। यह ट्रेनिंग इंदौर, नेटरैक्स ऑटो टेस्टिंग ट्रैक, और पीथमपुर में दी गयी। यह ड्राइवर प्रशिक्षण पश्चात लिक्वीड ऑक्सीजन के टेंकर चलाने के लिए गुजरात, महाराष्ट्र में आवश्यकता पड़ने पर टैंकर्स पहुंचा सकेंगे। परिवहन कार्यालय इंदौर के माध्यम ट्रेनिंग दी गई है। आज ट्रेनिंग पूर्ण होने पर उन्हे प्रमाण पत्र का वितरण किया गया। कार्यक्रम में नगर पालिका पीथमपुर के जनप्रतिनिधि श्री संजय वैष्णव, मुख़्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत धार श्री आशीष वशिष्ठ, डिप्टी कमिश्नर ट्रांसपोर्ट इन्दौर श्रीमती सपना जैन उपस्थित थे।संभागायुक्त द्वारा मित्तल कॉर्प प्लांट एक एवं 3 में ऑक्सीजन की उपलब्धता और वितरण इत्यादि की नवीनतम स्थिति का अवलोकन किया गया और यहां चल रहे कार्यो के बारे में विस्तार से चर्चा की गई। उन्होंने प्लांट के प्रतिनिधियों से कहा कि अभी तक आपने बहुत अच्छा कार्य किया, तीसरी लहर की आशंका के चलते आने वाली लहर से निपटने के लिये तैयार रहें। प्लांट मेंटेन रखने, स्टाफ उपलब्ध रखने के निर्देश भी दिए गये।