इंदौर। मप्र पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी गृह ज्योति योजना से अधिकाधिक पात्र उपभोक्ताओं को बिल में राहत प्रदान लाभान्वित कर रही हैं। मालवा और निमाड़ के सभी 15 जिलों में एक माह के दौरान 28.83 लाख उपभोक्ताओं को 1 रूपए यूनिट की दर से बिजली उपलब्ध कराई है। इन पात्र उपभोक्ताओं को प्रथम 100 यूनिट तक बिजली 1 रूपए यूनिट की दर से प्रदान की गई है। इससे शासन की ओर से उपभोक्ताओं को 129 करोड़ रूपए की सब्सिडी प्रदान की गई है।

मप्रपक्षेविविकं प्रबंध निदेशक अमित तोमर ने बताया कि बीते एक माह के दौरान इस योजना से 28.83 लाख उपभोक्ता लाभान्वित हुए है। प्रत्येक पात्र उपभोक्ता को 300 से 552 रूपए तक की सब्सिडी दी गई है। कंपनी क्षेत्र के सभी पात्र उपभोक्ताओं को एक माह में ही 129 करोड़ रूपए की राहत दी गई है। इन 28.83 लाख उपभोक्ताओं के एक माह की खपत बिल 100 से 500 रूपए तक प्रदान किए गए है।

Must Read- निकाय चुनाव में कमलनाथ ने कैसे किया कमाल

तोमर ने बताया कि 15 जिलों में सबसे ज्यादा इंदौर जिले में लगभग साढ़े तीन लाख उपभोक्ताओं को लाभ दिया गया है। इंदौर जिले में कंपनी के ही धार, देवास, बड़वानी, खरगोन, मंदसौर, रतलाम, उज्जैन आदि जिलों में भी सवा दो लाख से सवा दो लाख उपभोक्ता लाभान्वित हुए है। अन्य जिलों में भी एक लाख से पौने दो लाख उपभोक्ताओं को पात्रतानुसार एक रूपए यूनिट की दर से प्रथम 100 यूनिट तक बिजली प्रदान की गई है। प्रबंध निदेशक तोमर ने बताया कि योजना के क्रियान्वयन में दैनिक 5 यूनिट खपत की पात्रता आती है, तीस दिन में 150 यूनिट से ज्यादा खपत आने पर माह विशेष के लिए पात्रता समाप्त हो जाती है। प्रबंध निदेशक ने बताया कि ऊर्जामंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के निर्देशानुसार कंपनी के कर्मचारी, अधिकारियों द्वारा उपभोक्ताओं से योजना लाभ के संबंध में फीडबैक भी लिया जा रहा है।