OMG! MP की इस लड़की ने खून से बनाया ‘The Kashmir Files’ का पोस्टर, हैरान रह गए विवेक अग्निहोत्री

MP News : मध्यप्रदेश (Madhypradesh) की विदिशा की रहने वाली एक आर्टिस्ट मंजू सोनी (Manju soni) ने हाल ही में एक ऐसा काम करके दिखाया है जिसने सभी को हैरान कर दिया।

MP News : मध्यप्रदेश (Madhypradesh) की विदिशा की रहने वाली एक आर्टिस्ट मंजू सोनी (Manju soni) ने हाल ही में एक ऐसा काम करके दिखाया है जिसने सभी को हैरान कर दिया। जी हां आर्टिस्ट मंजू सोनी (Manju soni) ने अपने खून से फिल्म ‘The Kashmir Files’ का एक खास पोस्टर बनाया है। उनके इस पोस्टर में फिल्म के कलाकारों के चेहरे भी वैसे ही नजर आ रहे हैं। आर्टिस्ट मंजू सोनी ने इस पोस्टर को लेकर बताया कि उन्होंने जब फिल्म देखी तो दिल में गुस्सा भरा हुआ था। वहीं अफ़सोस भी था।

इसलिए मैंने ऐसा सोच लिया था कि कश्मीरी ब्राह्मणों पर हुए अत्याचार को जिन कलाकारों ने पर्दे पर जीवंत किया है मैं उनके चित्र अपने खून से बनाऊंगी। आगे आर्टिस्ट ने बताया कि ये मैंने रंगपंचमी के दिन तय किया था कि में अपने ही खून से कलाकारों का अभिषेक करूंगी। इसके लिए मैने कंपाउंडर को घर बुलाया। वहीं उससे कहा कि मुझे कुछ ब्लड सैंपल चाहिए टेस्ट के लिए। ऐसे में जब कम्पाउंडर ने एक बार सिरींज से खून निकाला तो मैंने कहा और खून निकाल दीजिए।

Must Read : “The Kashmir Files” बनाने वाले अग्निहोत्री ने भोपाल की पहचान homosexual बता दी

मैंने कम्पाउंडर को कहा कि मुझे खून से पेंटिंग बनानी है। ऐसा सुन वह बोलै की मैडम आप पागल हो गए हो क्या। मैं नहीं निकल कर दे सकता हूँ आपको खून। उसके बाद कम्पाउंडर तुरंत चला गया। जानकारी के मुताबिक, आर्टिस्ट ने ये भी कहा है कि मैंने बाद में दूसरे कम्पाउंडर को बुलाया। उसको भी सच बताया तो वह भी डर गया। उस समय मेरी 15 साल की बच्ची ने मेरा साथ दिया। मेरी बच्ची ब्लड निकालने से लेकर पेंटिंग बनाने मेरे साथ ही रही। उसने ही वीडियो बनाए और फोटो खींचे। मैंने जो पोस्टर बनाया है वो करीब 6 घंटों में बना है। इस पोस्टर में आर्टिस्ट ने अनुपम खेर, मिथुन चक्रवर्ती, पल्लवी जोशी को हूबहू कैनवास पर उतारा।

विवेक अग्निहोत्री का रिएक्शन –

जानकारी के मुताबिक, इस पोस्टर को देखने के बाद फिल्म निर्देशक विवेक अग्निहोत्री ने इस पोस्टर पर कहा कि OMG, उन्होंने कहा अविश्वसनीय। मेरे पास कहने के लिए शब्द नहीं हैं। मंजू सोनी को शत-शत प्रणाम। उन्होंने कहा कि मैं भावनाओं का सम्मान करता हूं लेकिन यह निवेदन भी करता हूं कि कोई ऐसा जोखिम भरा काम नहीं करे।