इंदौर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को इंदौर में प्रवासी भारतीय सम्मेलन में भाग लिया। इस दौरान उन्होंने इंदौर के लोगों की जामकर तारीफ की। प्रधानमंत्री मोदी ने 17वें प्रवासी भारतीय सम्मेलन में कहा कि प्रवासी भारतीय भारत के ब्रांड एंबेसडर हैं। मैं भारत के सभी प्रवासी भारतीयों को भारत का ब्रांड एंबेसडर कहता हूं। आप सभी ‘राष्ट्रदूत’ हैं।

पीएम मोदी ने प्रवासियों को से कमटनमेंट किया की आप दुनिया में कही रहेंगे भारत आपके लिए खड़ा रहेगा। सूरीनाम के राष्ट्रपति चंद्रिकाप्रसाद संतोखी, गुयाना के राष्ट्रपति डा. मोहम्मद इरफान अली का कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आभार जताया। इसके साथ ही उन्होंने उन्हें भरोसा दिलाया कि भारत आपके साथ कदम से कदम मिलाकर चलेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, यहां काफी कुछ है, जो इस यात्रा को अविस्मरणीय बनाएगा। पास ही में महाकाल के महालोक का दिव्य और भव्य विस्तार हुआ है। आशा करता हूं कि आप सब वहां जाकर भगवान महाकाल का आशीर्वाद भी लेंगे। अद्भुत अनुभव का हिस्सा भी बनेंगे। वैसे हम सभी जिस शहर में है, वह भी अपने आपमें अद्भुत है। लोग कहते हैं कि इंदौर एक शहर है। मैं कहता हूं कि इंदौर एक दौर है। यह वह दौर है जो समय से आगे चलता है। फिर भी विरासत को समेटे रहता है।

Also Read – भोपाल में दूसरे दिन भी करणी सेना का प्रदर्शन जारी, सरकार की तरफ से नहीं मिला लिखित आश्वासन

पीएम मोदी ने इंदौरी स्टाइल में कहा ‘अपन इंदौर, अपन का इंदौर’ ऐसा कहना देश ही नहीं दुनिया में लाजवाब है। इंदौर बस एक शहर नहीं ये एक दौर है और अद्भुत शहर है। ये समय से आगे चलता है फिर भी सभी अपनी विरासत को समेटे हुए हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि लोग कहते हैं इंदौर एक शहर है, मैं कहता हूं इंदौर एक ‘दौर’ है। यह वह दौर है जो समय से आगे चलता है, फिर भी विरासत को समेटे रहता है।

पीएम मोदी ने कहा, ‘इंदौर ने स्वच्छता के क्षेत्र में अलग पहचान साबित की है। खाने-पीने के मामले में इंदौर देश ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में लाजवाब है, यहां पोहे का पैशन, कचोरी, समोसे, शिकंजी, जिसने भी इसे देखा, उसके मुंह का पानी नहीं रुका। जिसने इसे चखा, उसने कहीं मुडकर नहीं देखा। 56 दुकान, सराफा प्रसिद्ध है ही।

पीएम मोदी ने कहा कि हमने असाधारण उपलब्धियां प्राप्त की हैं। भारत ने कोरोना काल में कुछ महीनों में ही स्वदेशी वैक्सीन बना लिया। हम वाश्विक अस्थिरता के बीच उभरती हुई अर्थव्यवस्था बने। आज दुनिया में मेक इन इंडिया का का नाम हो रहा है। लोग भारत की स्पीड़ और स्कील जानना चाहते हैं। आप सभी लोग भी इसके पीछे हैं। आप वैश्विक मंच में भारत की आवाज बनते हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत को आशा और जिज्ञासा के साथ देखा जा रहा है। वैश्विक मंच पर भारत की आवाज सुनी जा रही है। भारत इस वर्ष के जी 20 का मेजबान भी है। हम इसे केवल एक राजनयिक घटना नहीं बनाना चाहते हैं, बल्कि लोगों की भागीदारी का एक कार्यक्रम बनाना चाहते हैं।

PM मोदी ने कहा कि भारत की विकास की नई गति और वैश्विक मान्यता प्रत्येक भारतीय को गौरवान्वित करती है। आने वाले वर्षों में, भारत एक और भी मजबूत शक्ति के रूप में उभरेगा। आज भारत के पास सक्षम युवाओं की बड़ी तादात है। हमारे युवाओं के पास स्किल है और काम करने के लिए जरूरी जज्बा और ईमानदारी भी है। भारत की ये ‘स्किल कैपिटल’ दुनिया के विकास का इंजन बन सकती है।

पीएम मोदी ने प्रवासियों से कहा, ‘आशा करता हूं कि आप सब वहां जाकर भगवान महाकाल का आशीर्वाद भी लेंगे। वैसे हम सभी जिस शहर में है, वह भी अपने आपमें अद्भुत है। जानकारी के लिए आपको बता दे कि प्रवासी भारतीय सम्मेलन मंगलवार को समाप्त होगा और राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू समापन सत्र की अध्यक्षता करेंगी और प्रवासी भारतीय सम्मान प्रदान करेंगी।