अब निगम और उद्योगपति दोनों मिलकर सुधारेंगे इंदौर शहर की आबोहवा

आयुक्त प्रतिभा पाल ने बताया कि स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 के क्रम में शहर की आबोहवा में सुधार करने हेतु निगम द्वारा सभी प्रकार के प्रयास किये जा रहे है,

indore

इंदौर। आयुक्त प्रतिभा पाल ने बताया कि स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 के क्रम में शहर की आबोहवा में सुधार करने हेतु निगम द्वारा सभी प्रकार के प्रयास किये जा रहे है, इसी क्रम में जिला प्रशासन व निगम प्रशासन द्वारा विगत दिवसो में शहर के छोटे-बडे उद्योगपतियों के साथ बैठक ली गई थी। बैठक में इंदौर शहर की एयर क्वालिटि इण्डेक्स में सुधार करने के लिये कन्फेक्शनरी उद्योगो में लगे कोयला-लकडी को पीएनजी गैस बॉयलर में बदलने के लिये शहर हित को ध्यान में रखकर उद्योगपतियों से कहा गया था।

must read: क्या आपको भी लगता है पैसे कागज के होते हैं? अगर लगता हैं, तो इसे पढ़कर, आपके होश उड़ने वाले हैं।

इसी क्रम में आज इंदौर कन्फेक्शनरी मैन्युफेक्चर्स एसोसिएशन के प्रतिनिधि मंडल द्वारा आयुक्त प्रतिभा पाल से सीटी बस आफिस में मुलाकात व चर्चा की गई। इस अवसर पर एसोसिएशन के अध्यक्ष दिनेश चौधरी, उपाध्यक्ष राजेश डिंगरा, राजेश चौरवानी, सचिव दीपक दरियानी, संयुक्त सचिव सुनिल गुरेजा, नंदलाल वाधवानी, सदस्य  राजु पावेजा, महेन्द्र गुरनानी, अपर आयुक्त संदीप सोनी आदि उपस्थित थे।

आयुक्त पाल द्वारा उद्योगपतियों से चर्चा में उद्योग में लगे कोयला/लकडी बॉयलर के स्थान पर पीएनजी गैस बॉयलर लगाने के संबंध में उद्योगपतियों द्वारा पीएनजी, पीएनजी पाईप लाईन, वेट टैक्स, सब्सीडी आदि के संबंध में सुझाव प्रस्तुत किये गये। जिस पर आयुक्त पाल द्वारा पूर्ण रूप से सहयोग देने का कहा गया, साथ ही उद्योगपतियों द्वारा चर्चा में जिला प्रशासन व निगम प्रशासन के मार्गदर्शन में शहर हित में एयर क्वालिटि इण्डैक्स में सुधार हेतु कार्य करने के साथ ही पूर्ण सहयोग प्रदान करने की सहमति दी गई।