MP में पहले दिन ही ढेर हुआ नौतपा, सागर-रीवा में हुई बारिश, इंदौर को करना होगा इंतजार

27-28 मई से नया सिस्टम एक्टिव हो जाएगा. इस सिस्टम के बनने के बाद प्रदेश में बारिश का दौर शुरू हो जाएगा. चंबल, ग्वालियर, जबलपुर रीवा, सागर और इसके आसपास के इलाकों में हल्की बारिश होने के आसार है.

MP Weather: मध्यप्रदेश में इन दिनों मौसम अपना अलग-अलग अंदाज दिखा रहा है. जहां एक ओर गर्मी पड़ रही हैं, वहीं दूसरी ओर बारिश भी हो रही है. सागर और रीवा में तेज हवा के साथ बारिश हुई है. छिंदवाड़ा में भी बूंदाबांदी देखी गई है. होशंगाबाद में भी हल्की बारिश देखी गई. बारिश को लेकर मौसम विभाग का कहना है कि अगले 2 दिनों तक तापमान में बढ़ोतरी होगी. पारा 40 डिग्री के आसपास रहने की बात कही गई है.

27-28 मई से नया सिस्टम एक्टिव हो जाएगा. इस सिस्टम के बनने के बाद प्रदेश में बारिश का दौर शुरू हो जाएगा. चंबल, ग्वालियर, जबलपुर रीवा, सागर और इसके आसपास के इलाकों में हल्की बारिश होने के आसार है. इंदौर में प्री मॉनसून की बारिश के लिए अभी 1 सप्ताह का इंतजार और करना पड़ेगा.

Must Read- MP Panchayat Chunav Aarakshan List 2022: इंदौर विधानसभा नंबर एक में हुआ सबसे ज्यादा ओबीसी उम्मीदवारों का आरक्षण

जम्मू कश्मीर में जो सिस्टम बना हुआ है और राजस्थान से अरब सागर तक जो ट्रफ लाइन है उसकी वजह से झारखंड के ऊपर चक्रवाती घेरा बना हुआ है. जिससे ग्वालियर, सागर, चंबल, रीवा, जबलपुर, सतना में तेज हवाएं चल रही हैं. जबलपुर में आंधी और बारिश के चलते पेड़ उखड़ गए हैं. सतना में एक मकान का छज्जा गिर गया जिसकी वजह से राहगीर चपेट में आ गया और पेड़ के नीचे दबने से दो लड़कियों की मौत होने की खबर भी सामने आई थी. जबलपुर के भेड़ाघाट में एक बड़ा हादसा होते-होते बच गया है.

27 मई से नया सिस्टम बन रहा है जिसकी वजह से प्रदेश में बादल आना शुरू हो जाएंगे और बारिश की शुरुआत छत्तीसगढ़ से सटे इलाकों में होगी. शहडोल, सागर, जबलपुर, नर्मदापुरम और भोपाल के कुछ इलाकों में बारिश शुरू होगी, जिसके बाद यह धीरे-धीरे पूरे मध्यप्रदेश में यानी चंबल, बुंदेलखंड और जबलपुर में रहेगी इंदौर में अभी बारिश के कोई आसार नहीं है.