Home देश वर्ष 2020 और 2021 के पांडुलिपि अनुदान की हुई घोषणा, 80 कृतियों...

वर्ष 2020 और 2021 के पांडुलिपि अनुदान की हुई घोषणा, 80 कृतियों का हुआ चयन

साहित्य अकादमी के निर्देशक डॉ. विकास दवे ने जानकरी देते हुए आगे बताया कि वर्ष 2020 एवं 2021 हेतु प्रदेश के लेखक की प्रथम कृति का चयन किया गया है जो इस प्रकार है।

साहित्य अकादमी, मध्यप्रदेश संस्कृति परिषद, मध्यप्रदेश शासन संस्कृति विभाग भोपाल के द्वारा वर्ष 2020 एवं 2021 हेतु प्रदेश के लेखक की प्रथम कृति के प्रकाशनार्थ श्रेठ पांडुलिपियों की घोषणा की गई हैं। यह प्रति पांडुलिपि 20 हजार रुपए की सहायता अनुदान प्रतिवर्ष कुल 40 पांडुलिपियों को दिया जाता है। इस प्रकार 2 वर्षों की कुल 80 पांडुलिपियों का चयन किया जाता हैं। इस भी श्रेठ पांडुलिपियों का चयन किया गया है।

Must Read- धार: टूटने की कगार पर पहुंचा डैम, लगातार रिस रहा है पानी, खाली कराए गए गांव

दरअसल साहित्य अकादमी के निर्देशक डॉ. विकास दवे ने बताया कि “वर्ष 2020 और 2021 के प्रथम कृति अनुदान योजना के परिणाम की घोषणा की गई है। इस दो वर्षों के परिणामों में जिन 80 रचनाकारों को साहित्य अकादमी मध्यप्रदेश की ओर से उनकी प्रथम कृतियों के प्रकाशन हेतु सम्मान राशि प्रदान की जा रही है। जिन्हें अनुदान दिया जा रहा है उन्हें एक पत्र दिया जाएगा। उस पत्र में दिए निर्देशानुसार के अनुसार पुस्तक का अंतिम प्रारूप तैयार कर पुनः अकादमी को भेजकर उसकी स्वीकृति होते ही पुस्तक का प्रकाशन करवाना होगा। इस दौरान प्रकाशित पुस्तक की 10 प्रतियां साहित्य अकादमी को जमा करवाने के बाद तुरंत अनुदान राशि प्राप्त हो जाएगी”।

साहित्य अकादमी के निर्देशक डॉ. विकास दवे ने जानकरी देते हुए आगे बताया कि वर्ष 2020 एवं 2021 हेतु प्रदेश के लेखक की प्रथम कृति का चयन किया गया है जो इस प्रकार है। इस भी श्रेठ पांडुलिपियों का चयन किया गया है।

Exit mobile version