Breaking News

प्रियंका ने किया खुलासा, इसलिए मोदी के खिलाफ नहीं लड़ा चुनाव

Posted on: 28 Apr 2019 11:43 by Surbhi Bhawsar
प्रियंका ने किया खुलासा, इसलिए मोदी के खिलाफ नहीं लड़ा चुनाव

कांग्रेस के उत्तर प्रदेश की वाराणसी सीट से प्रियंका गांधी को टिकट नही देने के बाद कई तरह से सवाल उठने लगे थे। इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव नहीं लड़ने को लेकर प्रियंका गांधी ने पहली बार बयान दिया है। प्रियंका ने कहा कि मेरी पार्टी के नेताओं ने कहा कि प्रचार करना है, क्योंकि यूपी में मेरी 41 सीटें हैं जिसमें मुझे पूरा जोर लगाना है। हमें प्रचार बहुत करना है. एक स्थान पर रहकर ऐसा संभव नहीं था।

अजय राय मैदान में

कांग्रेस ने वाराणसी ने अजय राय को मैदान में उतारा है. कांग्रेस के इस फैसले के बाद भाजपा को एक बार फिर हमलावर होने का मौका मिल गया। प्रियंका के चुनाव नहीं लड़ने को लेकर कई तरह से सवाल उठने लगे थे। गौरतलब है कि पिछले काफी समय से अटकलें लगाई जा रही थी कि प्रियंका गांधी वाराणसी से चुनाव लड़ सकती है। कई बार प्रियंका गांधी ने भी मजाकिया अंदाज में अपने कार्यकर्ताओं से कहा था कि वाराणसी से लड़ जाऊं क्या?

दीपक सिंह ने किया था दावा

प्रियंका गांधी के वाराणसी से चुनाव लड़ने की खबर को और बल तब मिला जब कांग्रेस प्रवक्ता और एमएलसी दीपक सिंह ने इस बात का दावा किया था। दीपक सिंह ने कहा था कि प्रियंका ने वाराणसी से चुनाव लड़ने का मन बना लिया है। एक-दो दिन में बनारस से नामांकन करने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

रॉबर्ट वाड्रा से कही थी ये बात

वाराणसी से प्रियंका के चुनाव लड़ने को लेकर प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट वाड्रा ने भी कहा था कि प्रियंका मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने को तैयार है, बस पार्टी की हां का इंतजार है।हालांकि इन सभी अटकलों पर उस समय विराम लग गया जब पार्टी ने वाराणसी के लिए अजय राय का नाम घोषित कर दिया।

नहीं बचा पाए थे जमानत

अजय राय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक बार फिर चुनौती देने के लिए वाराणसी के चुनावी रण में उतरे है। 2014 के लोकसभा चुनाव में भी कांग्रेस ने अजय राय को ही यहां से टिकट दिया था लेकिन वह अपनी जमानत भी नहीं बचा सके थे।

चुनाव नहीं लड़ने का फैसला खुद प्रियंका गांधी का

प्रियंका गांधी के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने पर कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा ने कहा कि यह फैसला प्रियंका गांधी का खुद का था। जब पत्रकारों ने इस बारे में पित्रोदी से पूछा तो उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने चुनाव लड़ने का आखिरी फैसला प्रियंका पर छोड़ दिया था। पित्रोदा ने बताया कि प्रियंका ने फैसला किया कि उनके पास कई तरह की जिम्मेदारियां हैं। एक सीट पर ध्यान केंद्रित करने के बजाय उन्होंने अपने हाथ में जो जिम्मेदारियां ले रखी हैं, उस पर फोकस करेंगी।

Latest News

Copyrights © Ghamasan.com