मुख्यमंत्री शिवराज द्वारा की गई घोषणा के परिपालन में योजना क्रमांक 97 भाग – 4 में निर्मित किये जा रहे ऑडिटोरियम में स्वर्गीय लता मंगेशकर का संग्रहालय इन्दौर विकास प्राधिकरण द्वारा बनाया जा रहा है। जिस संबंध में राज्य शासन द्वारा गठित समिति द्वारा आज स्वर्गीय लता मंगेशकर ऑडिटोरियम एवं संग्रहालय का सघन निरीक्षण किया गया, जिसमें प्राधिकरण के अध्यक्ष जयपालसिंह चावड़ा, जयंत भिसे, निदेशक उस्ताद अल्ला खाँ संगीत कला अकादमी एवं ( गठित समिति के अध्यक्ष ) राहुल रस्तोगी, उप निदेशक उस्ताद अल्ला खाँ संगीत कला अकादमी, प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालिक अधिकारी आर.पी. अहिरवार सहित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

प्राधिकरण के अध्यक्ष चावड़ा ने समिति के सदस्यों को बताया कि प्राधिकरण की इस ऑडिटोरियम एवं संग्रहालय को न केवल प्रदेश में ब्लकि सम्पूर्ण देश में सर्वश्रेष्ठ विकसित करने की योजना है। चूंकि लता मंगेशकर की इन्दौर जन्मस्थली है। अतः उनके नाम से बनने वाले संग्रहालय एवं ऑडिटोरियम को देश में सर्वश्रेष्ठ ही होना चाहिए।

Also Read : MP की पहली राजनीतिक पार्टी जिसमें सिर्फ पढ़े-लिखे, युवा और अनुभवी प्रशासनिक अधिकारी होंगे शामिल

समिति के सदस्यों ने निरीक्षण में उपस्थित योजना के कन्सलटेन्ट अतुल सेठ एवं प्राधिकरण के अधीक्षण यंत्री अनिल जोशी को कई महत्वपर्ण सुझाव एवं निर्देश दिये। योजना में आवश्यक सुधार करने हेतु भी सुझाव दिये। उल्लेखनीय है कि ऑडिटोरियम में आंतरिक साज-सज्जा व संधारण का कार्य प्रगति पर है, जिसकी सौगात शहर को इसी वर्ष प्राप्त होगी ।