कमलनाथ राज में तबादले बचाने में लगे आलाधिकारी, जनता परेशान: भाजपा

कमलनाथ सरकार ने पहले की भाजपा सरकार द्वारा चलाई गई सभी जन कल्याणकारी योजनाओं को बंद कर दिया है और जनता को अपने हाल पर छोड़ दिया है ।शहर के गरीब लोग इलाज के लिए दर-दर भटक रहे हैं।

0
indore bjp

इंदौर: इंदौर के सांसद शंकर लालवानी, पूर्व महापौर मालिनी, गौड़ और भाजपा नगर अध्यक्ष गोपीकृष्ण नेमा ने पत्रकारों से बातचीत कर प्रदेश की कमलनाथ सरकार पर जमकर हमला बोला है। भाजपा नेताओं ने कहा कि जबसे प्रदेश में कांग्रेस सरकार आई है पूरे प्रदेश में अराजकता का माहौल बना हुआ है। जनता हैरान और परेशान है।

अधिकारियों के हो रहे लगातार तबादलों पर भाजपा ने कहा कि आला अधिकारी सिर्फ अपना तबादला बचाने में लगे रहते हैं। सरकार और प्रशासन को जनता की कोई चिंता नहीं है। कमलनाथ सरकार ने पहले की भाजपा सरकार द्वारा चलाई गई सभी जन कल्याणकारी योजनाओं को बंद कर दिया है और जनता को अपने हाल पर छोड़ दिया है ।शहर के गरीब लोग इलाज के लिए दर-दर भटक रहे हैं। चुनाव के समय पर कांग्रेस नेताओं ने बड़े-बड़े वादे किए लेकिन चुनाव में जीत के बाद एक भी वादा पूरा नहीं किया।

सड़क चौड़ीकरण को लेकर भाजपा ने कहा कि भंवरकुआं चौराहे से तेजाजी नगर बायपास तक की फोरलेन सड़क नगर सीमा में होने के बाद भी केंद्र सरकार ने बनाने की स्वीकृति दी है। इस सड़क को बनाने में बाधक बन रहे पानी, ड्रेनेज और बिजली की समस्याओं को हटाने का काम प्रदेश सरकार को करना है लेकिन सरकार इस काम के लिए कोई पहल नहीं कर रही है। जब प्रदेश में भाजपा सरकार थी तब जीतू पटवारी ने इस काम को कराने के लिए जबरदस्त दबाव बनाया था और तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसकी स्वीकृति दे दी थी।

शहर में मेट्रो चलाने के लिए उसके रास्ते का निर्माण शहर के बीच में ही होना है। इस मामले में भी सरकार ने अभी तक नही जनता न जनप्रतिनिधियों और ना ही व्यापारियों से कोई चर्चा की है। इसके कारण सभी लोगों में असंतोष दिख रहा है।

एयरपोर्ट को लेकर भाजपा ने कहा कि भाजपा सरकार के समय शिवराज सिंह चौहान ने एयरपोर्ट के विस्तार के लिए जमीन दी थी। विस्तार के लिए टेंडर भी हो गए थे लेकिन प्रदेश सरकार के पुलिस और इंदौर विकास प्राधिकरण विभाग में आपसी खींचतान के कारण एयरपोर्ट के विस्तार का काम नहीं हो पा रहा है।

भाजपा ने कहा कि पिछले 2 दिनों से नगर निगम के सभी व्यापारियों ने काम करना बंद कर दिया है सभी ठेकेदार हड़ताल पर है। पिछले एक साल से शहर के विकास पर ग्रहण लग गया है।