जम्मू-कश्मीर : पटरी पर लौट रही जिंदगी, आज खुलेंगे 190 से ज्यादा मिडिल स्कूल

0

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद-370 हटाने से पहले सुरक्षा के मद्देनजर स्कूल-काॅलेज और सरकारी कार्यालय बंद कर दिए गए थे। अब 14 दिन बाद एक बार 190 से ज्यादा प्राइमरी स्कूल सोमवार से खुल गए हैं। बताया जा रहा है कि बड़ी क्लास के स्कूल बाद में खोले जाएंगे। हालात सामान्य होते ही अन्य जिलों के स्कूल भी खोल दिए जाएंगे। दूसरी ओर, किसी भी अव्यवस्था से निपटने के लिए सेना समेत अन्य सुरक्षा बल 24 घंटे मोर्चे पर तैनात हैं।

बताया जा रहा है कि स्कूल-कॉलेज के साथ-साथ घाटी में लैंडलाइन की सुविधा भी शुरू होगी। इससे पहले कुछ हिस्सों में फेज वाइज ये सुविधा शुरू की जा रही थी, लेकिन अब धीरे-धीरे पूरी सुविधा को आगे बढ़ाया जाएगा। श्रीनगर के डिप्टी कमिश्नर शाहिद चैधरी के मुताबिक जम्मू में तो बीते कुछ दिनों से धारा 144 में ढील दी गई थी, लेकिन कश्मीर में अब धीरे-धीरे हालात सामान्य हो रहे हैं। इसी के चलते सोमवार से घाटी में 190 स्कूल खोले जाने का निर्णय लिया गया है।

https://twitter.com/ANI/status/1162553094493941762

इससे पहले 17 अगस्त से लैंडलाइन सेवा शुरू कर दी गई। इससे एक बार फिर घरों में फोन की घंटी बजने लगी है। अब कश्मीर के लोग मोदी सरकार के इस फैसले का स्वागत कर रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक अब सामान्य हालात को देखते हुए सरकार शनिवार से घाटी में लैंडलाइन फोन सेवाएं शुरू कर दी है। हालांकि यह फैसला घाटी में जमीनी स्तर पर सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा के बाद ही लिया जाएगा। बताया जा रहा है कि शुक्रवार शाम तक सुरक्षा व्यवस्था को लेकर समीक्षा की जाएगी। इसके बाद ही कुछ निर्णय लिया जाएगा। हालांकि पिछले पांच दिनों में हिंसा की एक भी घटना सामने नहीं आई है। श्रीनगर के कुछ हिस्सों में अब भी सुरक्षा व्यवस्था कड़ी है. साथ ही सभी सरकारी अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वे अपने-अपने ऑफिसों में पहुंचे।