इंदौर(Indore) : देवी अहिल्याबाई होलकर फल एवं सब्जी मंडी प्रांगण में 30 नवंबर 2022 को कृषकों द्वारा प्रस्तुत आवेदन में कृषकों द्वारा कृषि उपज के प्रवेश को रात्रि 10.00 के बाद लिये जाने क स्थान पर इसके पूर्व प्रवेश देने हेतु मांग की गई थी। जिसके संबंध में कृषक प्रतिनिधि मंडल, व्यापारी प्रतिनिधि मंडल एवं श्रमिक प्रतिनिधि मंडल की संयुक्त बैठक आयोजित की गई। बैठक में सहायक संचालक एवं सचिव नरेश कुमार परमार, प्रांगण प्रभारी धर्मेन्द्र सिंह तोमर, कृषक प्रतिनिधि, व्यापारिक प्रतिनिधि तथा हम्माल प्रतिनिधि मौजूद थे।

Read More : ग्रामीणों ने की जनपद CEO की शिकायत, मुख्यमंत्री के निर्देश पर संभागायुक्त ने किया निलंबित

बैठक में अवगत कराया गया कि वर्तमान में कृषि उपज की आवक को रात्रि 10 बजे के उपरांत रात्रि 11-12 बजे से सुबह 8 बजे तक प्रवेश दिया जाता है। जिसे खाली करते-करते रात्रि 2 से 3 बज जाती है। इस संबंध में प्रांगण प्रभारी से जानकारी ली गई। प्रांगण प्रभारी द्वारा अवगत कराया गया कि वर्तमान में हरी सब्जी की आवक 24 घंटे ली जाती है। आलू, प्याज लहसुन इत्यादि जिंसो की अत्यधिक आवक होने से कृषि उपज के उठाव में विलंब हो रहा है एवं प्लेटफार्म एवं मंडी प्रांगण में नई आवक को रखने के स्थान का अभाव के साथ-साथ कृषकों के वाहन एवं लोडिंग वाहन आमने-सामने होने से जाम की स्थिति निर्मित होती है।

Read More : जानिए कब है साल का आखिरी प्रदोष व्रत, ये है सही पूजन विधि

इस कारण से कृषकों की आवक रात्रि 11 बजे के लगभग प्रवेश दिया जा रहा है। बैठक में उपस्थित कृषक प्रतिनिधिगण, व्यापारी प्रतिनिधिगण एवं हम्माल प्रतिनिधिगणों के मध्य निश्चित समय में कृषकों की कृषि उपज के प्रवेश हेतु विचार किया गया। कृषक प्रतिनिधियों द्वारा रात्रि 10 बजे से कृषि उपज की आवक को प्रवेश दिये जाने हेतु प्रस्ताव दिया गया। जिसका समर्थन उपस्थित कृषक प्रतिनिधिगण, व्यापारी प्रतिनिधिगण, हम्माल प्रतिनिधिगण एवं मंडी प्रशासन द्वारा किया गया। मंडी संचिव परमार ने बताया है कि सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया है, कि रात्रि 10 बजे से सुबह 8 बजे तक कृषकों की कृषि उपज आलू, प्याज एवं लहसुन इत्यादि की आवक ली जायेगी ।