आबिद कामदार

Indore। शहर की स्वच्छता सिर्फ गली मोहल्ले की सफाई ही नही बल्कि उसका बुनियादी कार्य होता है, इंदौर में लगभग हर गली मोहल्ले को ड्रेनेज लाइन से जोड़ दिया गया है, पहले जो सेप्टिक टैंक बनाए जाते थे उनमें लगभग 50 प्रतिशत की कमी हो गई है। संभवत जहां ड्रेनेज लाइन नही होती, वहां पर घरों में सेप्टिक टैंक बनाए जाते है, जिसमें घर का गंदा जल मल अपशिष्ट जमा होता है। वहीं निगम के अनुसार हर 3 साल में इसकी सफाई करवानी होती है।

सैप्टिक टैंक की सफाई के आवेदन में आई 50 प्रतिशत की कमी

नगर निगम ने लगभग शहर की हर कॉलोनी को ड्रैनेज लाइन से जोड़ दिया है। पहले के मुकाबले अब रोजाना 3 से 4 आवेदन सेप्टिक टैंक की सफाई के लिए आ रहे है, वहीं हम बात पहले की करे तो पहले 8 से 10 आवेदन रोजाना आते थे, अब ड्रेनेज लाइन होने से इसमें लगभग 50 प्रतिशत की कमी आई है, वहीं कई दिन तो ऐसे निकल जाते है, जिनमें कोई आवेदन ही नहीं आते है, हर जगह नालियों को जोड़ दिया गया है।

Read More : मॉस्को से गोवा आ रही फ्लाइट में बम होने की धमकी, विमान को उज्बेकिस्तान डायवर्ट किया गया

 

सफाई के आवेदन शहरी सीमा से दूर या अवैध कॉलोनी से आते है

सैप्टिक टैंक की सफाई के लिए ऐसे क्षेत्रों से ज्यादा आवेदन आते है, जो या तो शहरी सीमा से दूर है या वह कॉलोनी अवेध रूप से विकसित की गई है। द्वारकापुरी, खजराना, गौरीनगर, मुसाखेड़ी और अन्य जगह से आवेदन प्राप्त होते है। वहीं गांव देहात में सांवेर रोड और अन्य जगह से भी कभी आवेदन आ जाते है।

Read More : किसान ने स्टार फुटबॉलर Lionel Messi को अनोखे अंदाज में दिया ट्रिब्यूट, फसलों से बनाई तस्वीर, देखें Photo

नगर निगम की सेप्टिक टैंक निर्माण की होती है गाइडलाइन

नगर निगम की गाइड लाइन के हिसाब से एक घरेलू सेप्टिक टैंक की लंबाई और चौड़ाई 6 बाय 4 की होती है,वहीं अगर इसकी गहराई की बात की जाए तो 5 से 7 फीट हो सकती है। वहीं औद्योगिक क्षेत्र मैं लंबाई और चौड़ाई लगभग 7 बाय 14 होती है। वहीं कई लोग अपनी जरूरत के हिसाब से छोटा बड़ा बना लेते है।

ऑटोमैटिक 4 मशीन है निगम के पास

नगर निगम में सेप्टिक टैंक के लिए 4 ओटोमेटिक मशीन और कर्मचारी कार्यरत है। कई बार टैंक में मोजूद गैस से हादसे हो जाते है, इसलिए चैंबर को बड़ी सावधानी पूर्वक साफ किया जाता है। वहीं सफाई के बाद निकलने वाले मल को कबीटखेड़ी स्थित प्लांट पर डाला जाता है।

ओद्योगिक और घरों की सफाई के लिए है अलग अलग दरें निर्धारित

सेप्टिक टैंक की सफाई के लिए आवेदन देना होता है।सैप्टिक टैंक की सफाई बड़ी ही सावधानी से की जाती है, घरों के सैप्टिक टैंक की सफाई के लिए ग्यारह सो रूपए वही औद्योगिक क्षेत्र के लिए अठारह सो पचास रूपए दर तय है।