देश

WHO ने हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा के ट्रायल पर लगाई अस्थाई रोक

अब तक कोरोना के इलाज के लिए बेहतर माने जाने वाली हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा के ट्रायल पर विश्व स्वास्थ्य संगठन ने सोमवार को अस्थाई तौर पर रोक लगा दी है। गौरतलब है कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी कोरोना के इलाज के लिए इस दवा का समर्थन किया था साथ ही उन्होंने कहा था कि वह इस दवा को ऐतिहातन खुद भी ले रहे हैं।

इसको लेकर डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक टेड्रोस एडहोम घेब्रेयस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा पर अस्थाई तौर पर रोक लगा दी गई है। डेटा सुरक्षा निगरानी बोर्ड द्वारा दिए गए से संबंधित आंकड़ों का विश्लेषण और समीक्षा की जा रही है।

डब्ल्यूएचओ महानिदेशक के मुताबिक बीते सप्ताह लैंसेट में प्रकाशित एक शोध में इस बात की जानकारी सामने आई है कि लोग हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा ले रहे थे। जिससे हृदय संबंधी बीमारी का खतरा और मृत्यु होने तक की संभावना भी बढ़ गई है। ऐसे में वैश्विक तौर पर इस दवा के इस्तेमाल पर फिलहाल अस्थाई तौर पर रोक लगा दी गई है।

टेड्रोस ने कहा है कि यह अस्थाई रोक सिर्फ कोरोना संक्रमित मरीजों को लेकर है जबकि अन्य बीमारी के मामले में इस दवा का इस्तेमाल किया जा सकता है। साथ ही कोरोना वायरस के इलाज से जुड़े प्रशिक्षण यथावत चलते रहेंगे।