देश

दो मीटर की दूरी पर बैठे कर्मचारी-अधिकारी, कार्यालय में सर्जिकल मास्क अनिवार्य : कलेक्टर

इंदौर। केंद्र एवं राज्य शासन के सभी शासकीय तथा अर्धशासकीय कार्यालयों में संचालन प्रारंभ हो गया है। कलेक्टर मनीष सिंह ने इन सभी कार्यालयों में कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम संबंधित समस्त उपायों को आवश्यक रूप से पालन करने के निर्देश दिए हैं।

जारी आदेश के अनुसार केंद्र एवं राज्य शासन के समस्त कार्यालयों के अतिरिक्त पूर्व में जिन कार्यालयों एवं संस्थानों को संचालन की अनुमति जारी की गई है, उन सभी संस्थाओं में कोरोना संक्रमण रोकने हेतु आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित किया जाना अनिवार्य है।

कार्यवाही हेतु आवश्यक बिंदु

कलेक्टर मनीष सिंह ने निर्देश दिए हैं कि जिन शासकीय और अर्धशासकीय कार्यालयों में कार्यालयीन समय अलग-अलग समय सीमा में बांटा जा सकता है वहां कर्मचारियों को अलग-अलग समय पर बुलाया जाए। सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों के बैठने की दूरी 2 मीटर से कम ना हो। प्रत्येक व्यक्ति अनिवार्यतः सर्जिकल मास्क पहने, यहां गमछा, रूमाल आदि को मास्क के रूप में उपयोग करने की अनुमति नहीं रहेगी।

उन्होंने निर्देश दिए कि कोई भी व्यक्ति मास्क को मुंह से नीचे उतारकर बात नहीं करेगा तथा हर व्यक्ति यह सुनिश्चित करेगा कि जब सामने वाला व्यक्ति बात कर रहा हो तो वह मास्क पहना हो।

कार्यालयों में गुटखा, तंबाकू आदि का उपयोग प्रतिबंधित रहेगा। साथ ही कार्यस्थल में किसी भी स्थान पर थूकने आदि के निशान ना रहे। कार्यालय के विभिन्न स्थानों एवं कर्मचारियों के बैठने के हॉल के बाहर सैनिटाइजर की अनिवार्य व्यवस्था हो। इसके साथ ही कार्यालय के प्रमुख स्थानों पर सेंसर सैनिटाइज मशीन लगाकर सभी व्यक्तियों के लिए सैनिटाइज की शत-प्रतिशत व्यवस्था भी की जा सकती है।

उन्होंने निर्देश दिए कि कार्यालय में कोई भी ऐसा कर्मचारी ड्यूटी पर नहीं आना चाहिए जिसे सर्दी, खांसी, बुखार हो। ताकि अन्य कर्मचारी सुरक्षित रह सकें। समुचित हाइजीन संस्था बनाए रखने के उद्देश्य से कार्यालय के सभी वाश बेसिन नल सहित चालू हालत में हों तथा उनमें पानी की व्यवस्था एवं लिक्विड सोप डिस्पेंसर लगाया जाए, जिससे सभी समय-समय पर साबुन से हाथ धो सकें। सभी कार्यालयों की साफ सफाई पर विशेष सावधानी बरती जाए एवं आवश्यक केमिकल का उपयोग किया जाए ताकि शौचालयों के माध्यम से होने वाले संक्रमण को रोका जा सके।

कलेक्टर सिंह ने सभी कार्यालयों में थर्मल गन की उपलब्धता अनिवार्यतः सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए। उन्होंने बताया कि, प्रात 10 बजे से सायं कार्यालयीन समय तक सभी द्वारों पर थर्मल गन के साथ एक कर्मचारी रहे जो प्रवेश करने वाले सभी शासकीय एवं अशासकीय व्यक्तियों का टेंपरेचर थर्मल गन से स्कैन करे। थर्मल गन का उपयोग अत्यंत सुविधाजनक है। यदि कोई व्यक्ति इस संबंध में मार्गदर्शन लेना चाहे तो वह मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय में पदस्थ डॉ अनिल डोंगरे मोबाइल नंबर 9425077060 से बात कर सकता है।

कलेक्टर सिंह ने निर्देश दिए कि जिन कार्यालयों में चिकित्सक मौजूद हैं, उन कार्यालयों में पल्स, ऑक्सीमीटर एवं थर्मल गन के साथ चिकित्सकीय परीक्षण किया जाए। ऐसे कार्यालय जहां बायोमैट्रिक अटेंडेंस ली जा रही थी, उन्हें सुरक्षा की दृष्टि से अभी स्थगित किया जाए। इसके अतिरिक्त प्रत्येक विभाग, कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी के निर्देशों के पालन हेतु एक नोडल अधिकारी की ड्यूटी लगायें, जिसकी यह जिम्मेदारी हो कि वह उक्त निर्देशों का शत-प्रतिशत पालन सुनिश्चित कराए। जारी निर्देशों का पालन ठीक ढंग से हो रहा है या नहीं, यह जांच करने हेतु कलेक्टर श्री सिंह द्वारा नगर निगम को स्पॉट फाइन करने के आदेश भी दिए हैं।

Related posts
देश

मण्डियों में मास्क, सेनेटाइजर न होने पर लगेगा स्पॉट फ़ाइन - कलेक्टर मनीष सिंह

इंदौर 2 जुलाई, 2020 इंदौर जिले में कोरोना…
Read more
देश

सिंधिया परिवार का मोघे साहब से तीन पीढ़ियों का रिश्ता है - ज्योतिरादित्य सिंधिया

भोपाल- आज भोपाल में पूरे प्रदेश भर से…
Read more
देश

इंदौर में 'मानसिक स्वास्थ्य का महत्त्व' वेबनार का हुआ आयोजन

इंदौर मानसिक स्वास्थ्य संगठन’, और…
Read more
Whatsapp
Join Ghamasan

Whatsapp Group