देशमध्य प्रदेश

सांसद शंकर लालवानी ने किया कोल्‍ड स्‍टोरेज और आलू-प्‍याज मंडी का दौरा, जानी समस्या

लॉकडाउन के कारण शहर में फलों और सब्जियों की आपूर्ति पर फर्क पड़ा है वहीं दूसरी ओर कोल्‍ड स्‍टोरेज एवं मंडी में रखे फल एवं सब्जियां अब व्‍यापारियों के लिए मुसीबत बन गए हैं। सांसद शंकर लालवानी ने मंडी और कोल्‍ड स्‍टोरेज का दौरा कर समस्‍याएं जानी और फल व्‍यापारियों से मंडी खोलने के लिए योजना मांगी है।

shankar lalwani

कोरोना महामारी के प्रकोप के बीच धीरे-धीरे शहर को खोला जा रहा है और फलों और सब्जियों के व्‍यापारियों ने सांसद शंकर लालवानी से कुछ रियायतों की मांग की है। चोइथराम मंडी में आलू, प्‍याज और लहसून की खरीदी-बिक्री का काम शुरू हो चुका है। रोजाना सुबह 5:00 से 11:00 बजे तक मंडी खुलती है और व्‍यापारी पूर्ण सावधानी के साथ काम कर रहे हैं। सांसद जब मंडी के दौरे पर पहुंचे तो आलू-प्‍याज एसो. अध्‍यक्ष, ओमप्रकाश गर्ग, कोषाध्‍यक्ष कन्‍हैयालाल चावला और व्‍यापारी महेश चावलानी ने अपनी समस्‍याएं बताई।

व्‍यापारियों का कहना है कि बैंक में कैश ट्रांजेक्‍शन नहीं होने से काफी दिक्‍कतों का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही, मंडी में काम करने वाले मजदूरों भी एटीएम कार्ड ना होने से परेशान हो रहे है क्‍योंकि बैंक से कैश नहीं निकल पा रहा है। साथ ही व्‍यापारियाें ने कहा कि अभी सिर्फ इंदौर जिले से ही माल आ रहा है लेकिन प्रशासन को आसपास के जिलों से भी माल लाने की अनुमति देनी चाहिए। व्‍यापारियों ने कहा कि वे सावधानी रख रहे हैं लेकिन नगर निगम को भी रोजाना सैनेटाइजेशन का काम करना चाहिए। सांसद ने सभी की समस्‍याएं सुनी और उन्‍हें हल करने का आश्‍वासन दिया।

shankar lalwani

इसके बाद सांसद कोल्‍ड स्‍टोरेज पहुंचे जहां करोड़ों रुपए के फल रखे हुए है और लॉकडाउन के लंबा खिंचने से फलों के खराब होने की स्थिति बन गई है। जिला प्रशासन ने कोल्‍ड स्‍टोरेज से फलों को निकालकर ग्रीन जोन में बेचने की इजाजत दी है लेकिन बाहर के व्‍यापारी इंदौर के रेड जोन में होने के कारण डरे हुए हैं, इस कारण फलों की बिक्री नहीं हो पा रही है। व्‍यापारियों ने सांसद से कहा कि एक तरफ आम जनता को भी फलों की सप्‍लाई प्रभावित हुई है वहीं कोल्‍ड स्‍टोरेज में रखे फल खराब हो जाएंगे। आमतौर पर इन फलों को अप्रैल-मई तक बेच लिया जाना चाहिए नहीं तो ये खराब होने लगते हैं ऐसे में अगर इन्‍हें जल्‍दी नहीं बेचा गया तो व्‍यापारियों को बड़ा नुकसान होगा। व्‍यापारियों ने फल मंडी प्रांगण में ही फल बेचने है और पीछे बने नए गेट से काम शुरू करने की इजाजत मांगी है।

shankar

फल व्‍यापारी एसोसिएशन के अशोक सबरवाल, गोविंद पटेजा और नरेश फुंदवानी ने सांसद से फलों को इंदौर में बेचने के लिए व्‍यवस्‍था बनाने की मांग की। इसके बाद सांसद ने इस बारे में जिला प्रशासन से बात करने का आश्‍वासन दिया औ व्‍यापारियों से पूर्ण सावधानी के साथ फल मंडी खोलने की योजना मांगी है।

सांसद का कहना है कि कोरोना के कारण समाज के सभी वर्गों पर प्रभाव पड़ा है और ये व्‍यापारी काफी समय से राहत की मांग कर रहे थे जिस पर मैंने उन्‍हें ही योजना बनाने के लिए कहा है क्‍योंकि कोरोना भीषण आपदा है और इसे रोकने की जिम्‍मेदारी हम सभी की है और सब मिलकर ही इसके प्रसार को रोक सकते हैं।

Related posts
देश

Corona in Indore : 44 नए कोरोना मरीज़ों की पुष्टि, 5 हज़ार के करीब पहुंचा आंकड़ा

इंदौर में एक बार फिर कोरोना मरीजों क…
Read more
देश

ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो आए कोरोना की चपेट में

नई दिल्ली- पूरा विश्व में कोरोना वायरस…
Read more
देश

मंत्री से सवाल पूछने वाली महिला के ऊपर की जा रही टिप्पणी के विरोध में महिला काँग्रेस ने डीआईजी को ज्ञापन दिया

इंदौर: इंदौर शहर काँग्रेस अध्यक्ष…
Read more
Whatsapp
Join Ghamasan

Whatsapp Group