देश में लगातार बारिश का कहर जारी है। इसी के साथ अधिकांश राज्यों में ठंडक का असर भी बढ़ने लगा। इससे लोगों की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही है। वही, एक बार फिर से मौसम विभाग ने आफत वाली बारिश होने की संभावान जाहिर की है। मौसम के जानकारों ने 7 दिसंबर को उत्तरी तटीय तमिलनाडु चाहिए कराईकाल और आंध्र प्रदेश में बारिश की गतिविधियों में तेजी देखी जाएगी। 5 दिसंबर तक दक्षिण पूर्व बंगाल की खाड़ी और हनुमान सागर में एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना जताई गई है। जिसके साथ दिसंबर तक दक्षिण पूर्व बंगाल की खाड़ी पर एक डिप्रेशन में बदलने का अलर्ट जारी किया गया है। इससे पुडुचेरी और उसके आसपास आंध्र तट पर 10 दिसंबर तक भारी बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है।

दिल्ली का मौसम

राष्ट्रीय राजधानी की एयर क्वालिटी लगातार बेहद खराब कैटेगरी में बनी हुई है। इन दिनों स्मॉग से सांस के बीमार मरीजों के लिए खतरा बढ़ रहा है। दिल्ली के आसमान में सुबह के वक्त स्मॉग और कोहरे की धुंध देखने को मिली है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक, आने वाले दिनों में अब इसमें और इजाफा हो सकता है। सेंट्रल पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड यानी CPCB के अनुसार, शनिवार सुबह करीब साढ़े आठ बजे राष्ट्रीय राजधानी का वायु गुणवत्ता सूचकांक यानी एयर क्वालिटी इंडेक्स 332 दर्ज किया गया।

राजस्थान में मौसम का मिजाज

राजस्थान के सीकर जिले के फतेहपुर कस्बे में शुक्रवार को पारा गिरकर 4.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जिससे यह राजस्थान का सबसे ठंडा स्थान बन गया। मौसम विभाग के अनुसार रात का तापमान 5.0 डिग्री रहा। जालौर, भीलवाड़ा, करौली और सीकर में न्यूनतम तापमान क्रमश: 6.4, 6.9, 7.0 और 7.0 डिग्री दर्ज किया गया, जबकि अन्य स्थानों पर रात का तापमान 8 डिग्री से ऊपर रहा। IMD की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक, अगले 24 घंटों के दौरान मौसम का मिजाज ऐसा ही बना रहेगा।

उत्तर पश्चिम में बन रहे है असर

मौसम विभाग द्वारा उत्तर पश्चिम में इस बार गर्मी सर्दी की उम्मीद जताई गई है। दरअसल पंजाब हरियाणा चंडीगढ़ दिल्ली सहित पश्चिम उत्तर प्रदेश राजस्थान में अत्यधिक ठंड नहीं पढ़ने का पूर्वानुमान जारी किया गया है। आईएमडी के महानिदेशक की माने तो उत्तर पश्चिम पूर्व और पूर्वोत्तर के अधिकांश क्षेत्र सहित मध्य भारत के कई हिस्से में दिसंबर जनवरी और फरवरी में मौसम सामान्य रहेगा। दक्षिणी हिस्सों में तापमान में हल्की गिरावट देखने को मिल सकती है।

Also Read : West Bengal : TMC नेता अभिषेक बनर्जी के घर पर हुआ बम धमाका, हादसे में 3 की मौत, कई लोग घायल

दक्षिण राज्यों में बारिश का दौर

इधर दक्षिणी राज्य में बारिश का दौर जारी रहेगा। भारत मौसम विज्ञान विभाग द्वारा गुरुवार को दिसंबर से फरवरी तक देश में सर्दी के प्रभाव के लिए पूर्वानुमान जारी किया गया है। भविष्यवाणी के मुताबिक सर्दी आंध्र प्रदेश सहित दक्षिणी राज्यों के कई हिस्से में न्यूनतम और अधिकतम तापमान सामान्य से नीचे रहेगी। प्रदेश में 3 महीने में ठंड कुछ ज्यादा रहने की बात कही जा रही है। हालांकि दिसंबर और जनवरी में बेहद सर्द हवाएं चलने का पूर्वानुमान जारी किया गया है। यह पूर्वानुमान दक्षिणी राज्यों के लिए जारी किया गया है।

घना कोहरा छाया

भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार राज्य 3 दिन शुक्रवार से रविवार तक हिमाचल प्रदेश और पंजाब के अलग-अलग इलाकों में घना कोहरा छाए रहने का पूर्वानुमान जारी किया गया है। साथ ही तापमान में गिरावट और अन्य प्रभाव के कारण कोहरों की स्थिति में बदलाव देखने को मिलेगा। भारी कोहरे को लेकर हिमाचल प्रदेश और पंजाब के अलग-अलग क्षेत्रों में येलो अलर्ट जारी किया गया है। एडवाइजरी जारी कर लोगों को जागरूक रहने के निर्देश दिए गए हैं।

पूर्वी राज्यों में बूंदाबादी

हिमाचल के जिन जगह पर येलो अलर्ट जारी किया गया है। उनमें बिलासपुर के अलावा पंजाब में लुधियाना पटियाला रूप नगर नवांशहर कपूरथला तरनतारन में अलर्ट जारी किया गया है। साथ ही मौसम विभाग द्वारा अगले दो से 3 दिनों में सुबह-सुबह पूर्वी उत्तर प्रदेश असम मेघालय नगालैंड मणिपुर मिजोरम त्रिपुरा में हल्की से मध्यम कोहरे और छिटपुट बूंदाबांदी का भी अलर्ट जारी किया गया है।

UP-बिहार में गिरगा पारा

उत्तर प्रदेश में आज कोहरा छाया रहेगा। दूसरी तरफ से आ रही ठंडी हवा और उत्तर भारत की तरफ से बर्फीली हवा का प्रभाव उत्तर प्रदेश और बिहार पर देखने को मिले। गा न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकती है जबकि बिहार में भी न्यूनतम तापमान 11 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है कई क्षेत्रों में कंपन महसूस की जा रही है।

देशभर का मौसम

दिसंबर की शुरुआत से ही कई राज्य में मौसम तेजी से बदल रहा है कि राज्य में कपकपाने वाली ठंड महसूस की जा रही है। हिमालयी क्षेत्रों में बर्फबारी तेज हो गई है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान की माने तो तापमान में और अधिक गिरावट देखी जाएगी। दिल्ली में न्यूनतम तापमान 6 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया ।है दक्षिणी भारत में बारिश से राहत का कोई पूर्वानुमान जारी नहीं किया गया है।