कुछ ही हफ्तों में वंदे भारत एक्सप्रेस तीसरी बार दुर्घटना का शिकार हुई है। जानकारी के अनुसार, एक सांड के टकराने से हाई स्पीड ट्रेन का अगला हिस्सा टूट गया। अधिकारियों के अनुसार, ट्रेन शनिवार को मुंबई-मध्य से गुजरात के गांधीनगर जा रही थी।

रेलवे ने बताया कि टक्कर के बाद ट्रेन का अगला हिस्सा क्षतिग्रस्त हुआ है और करीब 15 मिनट ट्रेन को रोके रखा गया था। ट्रेन को ज्यादा नुकसान नहीं हुआ है। टूटे हिस्से को ट्रेन के वापस मुंबई पहुंचने पर ठीक कर लिया जाएगा। घटना का वीडियो भी सामने आया है। जिसमें ट्रेन का अगला हिस्सा क्षतिग्रस्त हुआ है। इसके शाम तक ठीक होने की उम्मीद है।

तीसरी बार दुर्घटना का शिकार

भारतीय रेलवे ने बताया कि मुंबई से गांधीनगर जा रही वंदे भारत अतुल रेलवे स्टेशन के पास सांड से टकरा गई थी। सुबह करीब 8:15 बजे हुई इस टक्कर में सांड की मौत हो गई। रेलवे अधिकारियों ने बताया कि ट्रेन में सवार सभी यात्री सुरक्षित हैं और टक्कर के बाद करीब 15 मिनट तक ट्रेन को रोके रखा गया था। ट्रेन सुचारू रूप से चल रही है और क्षतिग्रस्त हिस्से को जल्द ठीक कर लिया जाएगा।

नवंबर में पांचवीं ट्रेन को हरी झंडी दिखाएंगे पीएम

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 30 सितंबर को मुंबई-गांधीनगर वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन को हरी झंडी दिखाई थी और इसने 1 अक्टूबर से अपनी सेवाएं देना शुरू की थी। यह वंदे भारत सीरीज के तहत देश में चलने वाली कुल तीसरी ट्रेन है। यह पूरी तरह से स्वदेशी ट्रेन है और इसका चेन्नई स्थित इंटीग्रल कोच फैक्ट्री में निर्माण किया गया है। इसके निर्माण में कुल 107 करोड़ रुपये की लागत आई है।

Also Read: Rajasthan: शर्मनाक! कर्ज चुकाने के लिए बेची जा रही लड़कियां, महिला आयोग ने की जांच की मांग

वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन देश की पहली इंजन रहित ट्रेन है। इसमें बुलेट या मेट्रो ट्रेन जैसे एकीकृत इंजन हैं। इसमें 16 कोच होते हैं और ऑनबोर्ड वाई-फाई की सुविधा भी मिलती है।ट्रेन में GPS आधारित सूचना प्रणाली से आने वाले स्टेशनों की जानकारी दी जाती है। यह 180 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से दौड़ने में सक्षम है। इसमें जैव-वैक्यूम शौचालय बनाए गए हैं और सुरक्षा के लिए सभी कोचों में स्वचालित दरवाजें लगाए गए हैं।