मध्यप्रदेश में अचानक बढ़ी ठंड ने एक बार फिर लोगों को रजाई ओढ़ने पर मजबूर कर दिया है। वहीं सुबह से उठकर स्कूल जाने वाले बच्चों के लिए शीतलहर को देखते हुए प्रशासन ने छुट्टियों का ऐलान कर दिया है। बता दें कि पिछले 1 सप्ताह में ठंड अचानक से ही काफी तेजी से बढ़ती हुई दिखाई दी है। इस वजह से प्रशासन ने सुबह से कड़कड़ाती ठंड में स्कूल जाने वाले बच्चों को राहत दे दी है, स्कूलों में 10 जनवरी तक छुट्टियों का ऐलान कर दिया है।

शीतलहर को देखते हुए मध्यप्रदेश में पहली से आठवीं तक की कक्षाओं की छुट्टी 10 जनवरी तक के लिए घोषित कर दी है। इसके बाद भी यदि शीतलहर का दौर कम नहीं होता है तो प्रशासन इस पर और भी विचार कर सकता है। लेकिन फिलहाल तो आदेश जारी कर दिए गए हैं। बता दें कि शीत लहर का प्रकोप मध्य प्रदेश के कई दिलों में देखने को मिला है। इस वजह से प्रशासन ने बच्चों की छुट्टियों का ऐलान किया है।

Also Read: BSNL ने बढ़ाई Airtel और Jio की टेंशन, इस दिन देश में लांच होगी 5G सर्विस

ठंड के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए मध्य प्रदेश के कई जिलों में पहली से आठवीं तक की कक्षाओं बंद कर दिया गया है। जिनमें उज्जैन भोपाल इंदौर विदिशा का नाम भी शामिल है। इतना ही नहीं शीत लहर ने उत्तरी हिस्सों को अपनी चपेट में लिया है। इस वजह से लखनऊ, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, पंजाब, जयपुर हरियाणा और अन्य जिलों में भी स्कूलों की छुट्टी है। ऐलान कर दिया गया है। वहीं मध्य प्रदेश के कई जिलों में घना कोहरा भी छाया हुआ है

वहीं IMD अधिकारी ने न्यूज़ एजेंसी को जानकारी देते हुए बताया है कि आने वाले दो-तीन दिन शीत लहर का प्रभाव देखने को मिल सकता है इसकी संभावना उन्होंने भी जाहिर की है। न्यूज़ एजेंसी पीटीआई के अनुसार मध्य प्रदेश के कई जिलों में तापमान में काफी ज्यादा गिरावट देखने को मिली है। शीतलहर के कारण राजधानी दिल्ली में तो स्कूलों को 15 जनवरी तक तक के लिए बंद कर दिया गया है।