जेडीयू के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव का 75 साल की उम्र निधन हो गया है। शरद यादव की बेटी ने इस बात की जानकारी दी है। शरद यादव की बेटी सुभाषिनी शरद यादव ट्वीट करते हुए कहा- पापा नहीं रहे।

जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव ने 75 साल की उम्र में अंतिम सांस ली है। इस दौरान उनकी बेटी सुभाषिनी शरद यादव ने ट्वीट कर जानकारी देते हुए बताया कि पापा नहीं रहे। जानकारी के अनुसार, गुरुवार रात 9 बजे फोर्टिस अस्पताल में शरद यादव का निधन हुआ।

जेडीयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष के निधन के बाद बिहार के राजनीतिक गलियारे में शोक की लहर दौड़ गई है। शरद यादव की तबीयत पिछले काफी दिनों से खराब चल रही थी। बताया जा रहा है कि गुरुवार देर शाम उनकी तबीयत ज्यादा खराब हो गई। उसके बाद उन्हें गुरुग्रम के फोर्टिंस अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनका निधन हो गया।

कैसी रही शरद यादव की राजनीतिक यात्रा?

बता दें शरद यादव मधेपुरा लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से चार बार प्रतिनिधित्व किया था। दो बार मध्यप्रदेश के जबलपुर से सांसद चुने गए। इसके अलावा उत्तर प्रदेश के बदायूं से भी संसद चुने गए थे। शरद यादव ने लोकसभा चुनाव में मधेपुरा से लालू को मात भी दी थी पर नीतीश कुमार के साथ भी बहुत सालों तक साथ रहने के बाद मनमुटाव ऐसा हुआ कि शरद यादव ने 2018 में नीतीश कुमार से अलग होकर पार्टी बना ली। साल 2018 में शरद यादव के साथ अली अनवर और कई नेताओं ने जेडीयू से अलग होकर लोकतांत्रिक जनता दल नामक पार्टी बना ली।

Also Read : बिहार के शिक्षा मंत्री ने रामचरितमानस को लेकर दिया आपत्तिजनक बयान, जानिए क्या कहा