अध्यक्ष सौगव गांगुली का भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के अध्यक्ष कार्यकाल समाप्त हो गया है। इनके बाद अब वर्ल्ड कप चैम्पियन रह चुके रोजर बिन्नी अध्यक्ष पद की कमान संभालेंगे। पूर्व अध्यक्ष गांगुली ने BCCI के प्रमुख को बधाई दी और कहा कि नए बॉस बन गए है जो ओर भारतीय टीम को नई उंचाईयां तक ले जाएंगे और बेहतर काम करेंगे। बता दें, गांगुली अध्यक्ष पर तीन साल तक बने रहे है।

ये बोले- गांगुली

सौरव गांगुली ने कहा, ‘मैं रोजर बिन्नी को हार्दिक बधाई देता हूं। जो नया ग्रुप सिलेक्ट हुआ है, वह चीज़ों को आगे बढ़ाने का काम करेगा। बीसीसीआई अच्छे हाथों में है। भारतीय क्रिकेट मजबूती के साथ आगे बढ़ रहा है, हम उन्हें हार्दिक बधाई देते हैं।

लगाए जा रहे थे ये कयास

आपको बता दें कि करीब 3 साल तक बीसीसीआई अध्यक्ष रहने के बाद सौरव गांगुली का सफर यहां खत्म हो गया है। पहले कयास लग रहे थे कि उन्हें दोबारा मौका मिल सकता है, लेकिन ऐसा नहीं हो पाया. माना जा रहा है कि, सौरव गांगुली एक बार फिर बंगाल क्रिकेट एसोसिएशन से जुड़ेंगे और CAB अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ सकते हैं।

इस पद के अलावा सौरव गांगुली के आईसीसी का चेयरमैन बनने के भी चांस थे, लेकिन बोर्ड ने इस बार फैसला लिया है कि वह अपनी ओर से किसी को भी नामित नहीं करेंगे। ऐसे में सौरव गांगुली का बीसीसीआई अध्यक्ष के बाद आईसीसी चेयरमैन बनने का मिशन अधूरा रह गया।

जय शाह बने एक बार फिर सचिव

अगर बीसीसीआई के चुनावों की बात करें तो लगभग सभी पदों पर निर्विरोध नियुक्ति हुई है। रोजर बिन्नी बीसीसीआई के अध्यक्ष बन गए हैं, जबकि राजीव शुक्ला को उपाध्यक्ष पद मिला है। जय शाह एक बार फिर बीसीसीआई के सचिव बने हैं, जबकि देवाजीत साइकिया ज्वाइंट सेक्रेटरी, आशीष शेलार ट्रेजरर चुने गए हैं।

इसी एजीएम में तय किया गया है कि भारतीय क्रिकेट टीम एशिया कप 2023 के लिए पाकिस्तान का दौरा नहीं करेगी। बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने इस बात की जानकारी दी है कि एशिया कप 2023 को किसी न्यूट्रल वेन्यू पर करवाने का विचार किया जाएगा, क्योंकि भारतीय टीम पाकिस्तान का दौरा नहीं करेगी।