प्रसिद्ध गांधीवादी डॉ. एसएन सुब्बाराव का निधन, दुनियाभर में ऐसे बनाया अपना नाम

बेंगलूरू के प्रसिद्ध गांधीवादी डॉ. एसएन सुब्बाराव को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है. दरअसल, आज यानी बुधवार को डॉ. एसएन सुब्बाराव का निधन हो गया है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि डॉ. एसएन सुब्बाराव ब्रह्मचार्य जीवन जीते हैं. गर्मी हो या सर्दी खादी की कमीज और निकर ही सुब्बाराव की वेशभूषा है. अपने कपड़े स्वयं धोते हैं. फिर निरंतर यात्राएं करने के लिए निकल पड़ते हैं। एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने के लिए रेलगाड़ी में सफर करते हैं.

10 वर्ष की उम्र में ही गीता और उपनिषद् के भक्ति गीतों का गायन करने लगे. 9 अगस्त 1942 को ब्रिटिश विरोधी नारे लगाने पर गिरफ्तार हुए. उनकी संगठन कुशलता के तो प्रथम प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू भी कायल थे. अब तक अमेरिका, इंग्लैंड, जर्मनी, कनाडा, सिंगापुर, इंडोनेशिया, श्रीलंका सहित अनेक देशों की यात्रा कर चुके हैं.