बारिश के मौसम में भूलकर भी ना करें इन जगहों पर जाने की गलती, हो सकती हैं ये परेशानियां

जून और जुलाई ये दो महीने ही ऐसे होते हैं. जिसमे लोग अपनी व्यस्त जिंदगी में से कुछ पल घूमने के लिए निकालते हैं. इसलिए लोग अक्सर ऐसी जगह जाना पसंद करते हैं, जो पास में हो साथ ही जहां कम समय में ज्यादा मज़े कर सकें.

मानसून किसे पसंद नहीं होता, हर किसी को इस मौसम से खास लगाव हैं और होगा भी क्यों नहीं आखिरकार इस मौसम में घूमने का जो मज़ा हैं. वो बाकि के मौसम में कहा, मानसून में किसी भी जगह की सुंदरता दोगुनी हो जाती हैं, लेकिन कभी-कभी लोग सुन्दर वातावरण की वजह से सावधानी को नज़रअंदाज कर देते हैं, जो कि खतरों से खाली नहीं हैं. ऐसे में जरुरी हो जाता हैं कि मानसून में कही भी घूमने जाने से पहले उस जगह की सुंदरता के साथ-साथ वहा की परेशानियों को भी देखा जाएं. तो आज हम आपको कुछ ऐसी ही जगह के बारें में बताएँगे, जहां मानसून में जाना खतरा बन सकता हैं.


जैसे देखा जाएं तो जून और जुलाई ये दो महीने ही ऐसे होते हैं. जिसमे लोग अपनी व्यस्त जिंदगी में से कुछ पल घूमने के लिए निकालते हैं. इसलिए लोग अक्सर ऐसी जगह जाना पसंद करते हैं, जो पास में हो साथ ही जहां कम समय में ज्यादा मज़े कर सकें. बात करें दिल्ली में रहने वाले लोगों की तो उनकी पसंद खासकर पहाड़ी इलाके की होती हैं. क्योंकि वहां से हिल्स स्टेशन जाने में ज्यादा समय नहीं लगता हैं. लेकिन यहां सवाल ये उठता हैं कि क्या मानसून यांनी जून और जुलाई में हिल्स स्टेशन जाना सुरक्षित हैं या नहीं ?

11 Hill Stations in India Worth Visitingमानसून में हिल्स स्टेशन जाना सुरक्षित नहीं हैं, क्योकि इस मौसम में वहां अत्यधिक वर्षा होती हैं. इस मौसम में पहाड़ो पर बर्फ के चट्ठानो का खतरा भी बड़ जाता हैं. इसलिए इन दो महीनो में हिल्स स्टेशन जैसी जगह को नज़रअंदाज करे, अब हम आपको बताने जा रहे हैं कि आपको किस हिल्स स्टेशन पर नहीं जाना चाहिए.

असम- जुलाई में ज्यादा बारिश होने के कारण असम में हर साल बाढ़ का खतरा रहता हैं

हिमाचल प्रदेश – तेज़ बारिश की वजह से बर्फ के चट्ठानो के गिरने का खतरा यहां बना रहता हैं, इसलिए जुलाई में हिमाचल प्रदेश जाने से बचे.

ऋषिकेश- यहां अकसर लोग वॉटर एक्टिविटीज करने के लिए जाते हैं, लेकिन मानसून में वॉटर एक्टिविटीज खतरों से भरा होता हैं. इसलिए आप भी मानसून में ऐसी जगह जाने से बचे.