नई दिल्ली। 2023 में होने वाले चुनावों की तैयारी जोर-शोर से शुरू हो चुकी है। कांग्रेस पार्टी ने ‘ Bharat Jodo Yatra ’ समाप्त होने से पहले ‘हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान की घोषणा कर दी। कांग्रेस का ‘हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान 26 जनवरी से शुरू होगा और 26 मार्च तक चलेगा। कांग्रेस ने आज ‘हाथ से हाथ जोड़ो अभियान’ का लोगो जारी किया है। कांग्रेस पार्टी ने शनिवार को जानकारी देते हुए बताया कि, अभियान की 26 जनवरी से पूरे देश में शुरू किया जाएगा।

राहुल गांधी 30 जनवरी को श्रीनगर में तिरंगा फहराएंगे और यात्रा समाप्त होगी। कांग्रेस ने शनिवार को दिल्ली में ‘हाथ से हाथ जोड़ो’ अभियान का लोगो और केंद्र सरकार के खिलाफ एक ‘चार्जशीट’ जारी की। कांग्रेस नेता जयराम रमेश और केसी वेणुगोपाल ने पार्टी मुख्यालय में ‘हाथ से हाथ जोडो़’ अभियान का लोगो लॉन्च किया। इस मोके पर जयराम रमेश ने कहा कि यह भारत जोड़ो अभियान का दूसरा चरण है।

Also Read – RCB का आधिकारिक ट्विटर अकाउंट हैक, हैकर्स ने बदला नाम

जयराम रमेश ने कहा कि भारत जोड़ो अभियान में विचारधारा के आधार पर राहुल गांधी ने जो मुद्दें उठाए, उसका चुनाव से लेना-देना नहीं था। हाथ से हाथ जोड़ो अभियान में हमारा निशाना मोदी सरकार की विफलताए हैं। ये सौ फीसदी राजनीतिक है। इस अभियान के तहत कांग्रेस पार्टी मोदी सरकार की विफलताओं से जन-जन को अवगत कराएगी।

भारत जोड़ो यात्रा (India Jodo Yatra) का संदेश आम लोगों तक पहुंचाने के लिए ये घर-घर अभियान चलाया जाएगा। जयराम रमेश ने बताया कि ये यात्रा तीन स्तर की होगी- जिले ब्लॉक लेवल पर यात्रा, जिले में अधिवेशन और राज्य में बड़ी यात्रा। जानकारी के मुताबिक कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे भी इसमें भाग लेंगे।