कलेक्टर सिंह का एक्शन मोड, नायब तहसीलदार गर्ग को दूसरे विभाग में किया अटैच

इंदौर : शहर में मंगलवार को आयोजित जन सुनवाई के दौरान व्यापारी श्री हितेश पंजवानी द्वारा की गई शिकायत को संज्ञान में लेते हुए कलेक्टर मनीष सिंह द्वारा त्वरित कार्रवाई की गई है। अपर कलेक्टर राजेश राठौर द्वारा उक्त संबंध में जानकारी देते हुए बताया गया है कि व्यापारी पंजवानी द्वारा नायब तहसीलदार संजय गर्ग के विरुद्ध जमीन का हिस्सा पड़ोसी के नाम दर्ज करने का लगातार दबाव बनाए जाने की शिकायत की गई थी।

यह भी पढ़े : Indore News : आज से 3 दिनी “एमपी ऑटो- शो 2022”, जीरो वेस्ट होगा इवेंट

शिकायत पर की गई प्रारंभिक जांच के दौरान पाया गया कि नायब तहसीलदार गर्ग द्वारा मामले में एमपीएलआरसी की धारा 250 के तहत दोनों संबंधित व्यक्तियों से कोई आवेदन नहीं लिया गया। उन्होंने उक्त प्रकरण में शासन द्वारा निर्धारित प्रक्रियाओं का पालन नहीं किया ना ही जमीन का ठीक से सीमांकन किया।नायब तहसीलदार गर्ग द्वारा जानबूझकर बटांकन के समय खसरा नंबर भरते वक्त गलत जानकारी दी गई। जो प्रकरण समय रहते निराकृत किया जा सकता था उसका निराकरण करने में 6 माह से अधिक अवधि का समय लिया गया।

यह भी पढ़े :  “एमपी ऑटो शो-2022” की व्यवस्थाओं का निरीक्षण करने पहुंचे संभागायुक्त डॉ शर्मा

उक्त सभी तथ्यों को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी मनीष सिंह द्वारा नायब तहसीलदार संजय गर्ग को जिला कार्यालय भू अभिलेख शाखा में अटैच करने के आदेश दिए गए हैं तथा उनके स्थान पर तहसीलदार सरोज परिहार को कार्यभार सौंपा गया है।