इंदौर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गल्फ ल्यूब्स और कुवैत बेस्ड एनबीटीसी कम्पनी की मलेशिया बेस्ड सेंट्रल इंडिया फर्टिलाइजर्स एण्ड रिफायनरी कम्पनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जे.वी.वी. सत्यनारायण से प्रदेश में निवेश के संबंध में वन टू वन चर्चा की। कम्पनी द्वारा कुवैत बेस्ड फर्टिलाइजर प्लांट के रिलोकेशन और 10 मीट्रिक टन उत्पादन की क्रूड ऑइल रिफायनरी मध्यप्रदेश में लगाने के प्रस्ताव पर मुख्यमंत्री चौहान ने “गो अहेड” कहते हुए कहा कि प्रदेश में भूमि, गैस पाइप लाइन, पर्याप्त विद्युत, जल, रेल व बेहतर रोड नेटवर्क उपलब्ध है।

आप राज्य शासन की टीम के साथ रोडमैप बनाएं और बताएं कि कितनी जल्दी इकाई लगाने का काम आरंभ कर रहे हैं? मुख्यमंत्री चौहान के इस प्रश्न पर कंपनीके पदाधिकारियों ने बताया कि कम्पनी फर्टिलाइजर काम्प्लेक्स में 6000 करोड़ और रिफायनरी काम्प्लेक्स में 15 से 20 हजार करोड़ रूपए का निवेश करेगी। इससे 2500 से अधिक लोगों को रोजगार मिलेगा। मुख्यमंत्री चौहान आज 17वें प्रवासी भारतीय दिवस के द्वितीय दिवस पर ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर में उद्योगपतियों और निवेशकों से चर्चा कर रहे थे। मुख्यमंत्री चौहान ने लुलु ग्रुप इंटरनेशनल, डेवलपमेंट बैंक ऑफ सिंगापुर लिमिटेड, एमईटीएल ग्रुप, स्टारलेट ग्लोबल के प्रतिनिधियों से चर्चा की। मुख्यमंत्री चौहान ने निवेशकों व उद्योगपतियों को राज्य शासन की तरफ से हरसंभव सहयोग और त्वरित कार्यवाही का आश्वासन दिया।

मुख्यमंत्री चौहान से आमिरात की बहुराष्ट्रीय कम्पनी लुलु ग्रुप इंटरनेशनल के चेयरमेन और एम.डी युसुफ अली मौस्लेम अब्दुल कादर तथा संचालक श्री अनंथ एवी ने प्रदेश में खाद्य प्रसंस्करण केन्द्र, एग्री प्रोक्योरमेंट सेंटर में निवेश करने तथा इंदौर में मॉल स्थापित करने के संबंध में चर्चा की। लुलु ग्रुप 22 देशों में 232 स्टोर संचालित कर रहा है, भारत में भी इस ग्रुप के 05 मॉल है। ग्रुप राज्य में होटल, हायपर मार्केट और कन्वेंशन सेंटर में निवेश का भी इच्छुक है।

मुख्यमंत्री चौहान से डेवलपमेंट बैंक ऑफ सिंगापुर लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी तथा प्रबंध संचालक श्री पीयूष गुप्ता ने प्रदेश में परिसम्पत्ति प्रबंधन और बीपीओ स्थापित करने, अधोसंरचना निर्माण परियोजनाओं तथा खाद्य प्रसंस्करण इकाईयों को वित्तीय समर्थन उपलब्ध कराने और कार्बन क्रेडिट के संबंध में गतिविधियां संचालित करने के संबंध में चर्चा की। पीयूष गुप्ता ने इंदौर की स्वच्छता और प्रवासी भारतीय सम्मेलन के आयोजन की भी प्रशंसा की। मुख्यमंत्री चौहान ने राज्य सरकार की ओर से हरसंभव सहयोग उपलब्ध कराने की बात कही। भारत में डीबीएस बैंक इंडिया लिमिटेड इस समूह द्वारा ही संचालित किया जा रहा है।

तंजानिया का एमईटीएल ग्रुप भारत-अफ्रीका अक्रास कंट्री टूरिज्म के क्षेत्र में मध्यप्रदेश से गतिविधियां संचालित करने का इच्छुक है। इसके साथ ही यह समूह आर्गेनिक फार्मिंग, इलेक्ट्रिकल व्हीकल निर्माण तथा कृषि के क्षेत्र में निवेश का इच्छुक है। मुख्यमंत्री चौहान से समूह के मुख्य कार्यकारी अधिकारी इंदरभुवन सिंह तथा समूह के प्रतिनिधि विवेक राखेचा ने भेंट की।

Also Read : इस महाशिवरात्रि 18 लाख दीपों से जगमग होगा उज्जैन, बनेगा वर्ल्ड रिकॉर्ड

इसके साथ ही मुख्यमंत्री चौहान से अमेरिका के स्टारलिट ग्लोबल के जितेन्द्र मुछाल, जुगल कालानी व अमित भंडारी ने भेंटकर प्रदेश में निवेश की इच्छा जताई। औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन मंत्री राजवर्धन सिंह दत्तीगांव, अपर मुख्य सचिव मोहम्मद सुलेमान, प्रमुख सचिव मनीष सिंह और राज्य औद्योगिक विकास निगम के प्रबंध संचालक मनीष सिंह उपस्थित थे।