उज्जैन। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रविवार को महाकाल लोक का अवलोकन किया। मुख्यमंत्री ने महाकाल लोक में बनाई गई सभी मूर्तियों एवं कलाकृतियों का बारिकी से अवलोकन किया। उन्होंने कहा महाकाल लोक के अदभुत मूर्तियों एवं कलाकृतियों की सराहना की।

मुख्यमंत्री ने महाकाल लोक की उद्घाटन से पूर्व सभी को यहां की विशेषताओं के बारे में जानकारी मिले। उन्होंने कहा कि एक ऐसा वातावरण निर्मित हो कि भगवान महाकालेश्वर के दर्शन के पश्चात उज्जैन से प्रस्थान के दौरान भी लोगों को महाकाल लोक की अदभुत सुन्दरता का अनुभव हो।

मुख्यमंत्री ने कहा कि महाकाल लोक की छटा अलौकिक और अदभुत है। उन्होंने अवलोकन के दौरान बारिकी से महाकाल लोक की हर चीज का निरीक्षण किया और प्रशासनिक अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये। इसके पूर्व महाकाल लोक आगमन के दौरान जनजातीय कलाकारों एवं संस्कृति विभाग से सम्बन्धित लोक कलाकारों ने नृत्य का प्रदर्शन किया और शिवस्तुति का गान भी हुआ।

Also Read: Madhya Pradesh: राज्यपाल मंगुभाई पटेल ग्लोबल बिजनेस कॉन्क्लेव में हुए शामिल, बोले उद्यमी देश की अर्थव्यवस्था की रीढ़

इस दौरान नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्रसिंह, वित्त मंत्री एवं उज्जैन जिले के प्रभारी मंत्री जगदीश देवड़ा, उच्च शिक्षा मंत्री डॉ.मोहन यादव, खजुराहो सांसद वीडी शर्मा, सांसद अनिल फिरोजिया, विधायक पारस जैन, विवेक जोशी, अपर मुख्य सचिव डॉ.राजेश राजौरा, प्रमुख सचिव नीरज मण्डलोई, प्रमुख सचिव संस्कृति शिवशेखर शुक्ला, संभागायुक्त संदीप यादव, आईजी संतोष कुमार सिंह, कलेक्टर आशीष सिंह, पुलिस अधीक्षक सत्येंद्र कुमार शुक्ला, सहित अन्य जनप्रतिनिधि, अधिकारी आदि उपस्थित थे।