Birthday Special : जला देते थे जिस डायरी को आज बन गई किताब, जानिए मोदी की किताबों की कहानी

0
111
modi

प्रधानमंत्री मोदी जो की आज सिर्फ देश ही नहीं बल्कि दुनिया भर में सबसे ज्यादा चर्चीत व्यक्ति बन चुके हैं। दुनियाभर में अपनी छाप छोड़ने वाले नरेंद्र मोदी भले ही आज सबसे प्रिय नेता हो पर एक दौर ऐसा भी था जब वे अपना संघर्ष किसी को बता कर बयां नहीं करते थे। उस समय वे डायरी लिख कर अपने मन की बातों को किताब के पन्नों तक सिमित रखते थे। इतना ही नहीं इसमें खास यह भी था कि वे अपनी इस किताब के पन्नों को खूद ही जला भी देते थे।

नरेंद्र मोदी युवा अवस्था के दौरान रोजाना डायरी लिखा करते थे लेकिन आश्चर्यजनक था कि वे अपनी लिखी डायरी के पन्नों को हर चार छह महीने में जला दिया करते थे। वहीं जब एक बार उनके दोस्त भाई पंचासरा ने ये सब होते देखा तो उन्होंने नरेंद्र मोदी को समझाया और ऐसा करने से मना किया। उसके बाद उस डायरी के बचे हुए पन्नों ने एक किताब का रुप ले लिया।

नरेंद्र मोदी खूद भी कई बार इस किताब का जिक्र कर चुके हैं। इस किताब का नाम साक्षीभाव रखा गया। अपनी इस किताब को लेकर मोदी का कहना है कि ‘‘जब मैं 36 साल का था तब जगद्जननी मां के साथ मेरे संवाद का संकलन है साक्षीभाव। यह किताब पाठक को मेरे साथ जोड़ती है। पाठक को न केवल समाचार पत्रों द्वारा, बल्कि मेरे शब्दों द्वारा मुझे जानने में मदद करती है’’।

‘साक्षीभाव’ में मोदी ने अपने शब्दों का कविता का रुप दिया है इसमें वे दुर्गा मां के साथ संवाद को लिखते हैं। इसके अलावा भी मोदी ने और भी कई किताबे लिखी हैं। मोदी का कविताओं के प्रति खास झुकाव उनके भाषणों में हम साफ देख सकते हैं।

नरेंद्र मोदी की लिखी हुई किताबों में ‘ज्योतिपुंज’ नाम की किताब भी शामिल हैं इसमें उन्होंने आरएसएस जीवन के दौरान की भावनाओं का जिक्र किया है इसके साथ ही गुरु गोलवलकर से लेकर वसंतराव चिपलंकर तक, करीब एक दर्जन से ज्यादा ऐसे प्राचरकों के बारे में लिखा मोदी ने लिखा है जिनसे उन्हें प्रेरणा मिली हैं।

‘सोशल हार्मनी’ किताब में भी मोदी ने अपने बाल जीवन से अब तक की सोच को उदाहरणों के माध्यम से समझाया हैं। उन्होंने परीक्षा की तैयारी, और उस समय होने वाली घबराहट व तनाव को दूर भगाने के तरीकों को बताते हुए खास कर स्टूडेंट्स के लिए ‘एग्जाम वॉरियर्स’ किताब लिखी।

मोदी अकसर अपने आप को जनता से जोड़े रखते हैं यहीं कारण है कि वे सबसे ज्यादा लोकप्रिय नेता में शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here