MP नगरीय निकाय चुनाव का ऐलान: दो चरण में होंगे चुनाव, पहले 133 फिर 214 निकायों में डलेंगे वोट

MP नगरीय निकाय चुनाव का ऐलान: राज्य निर्वाचन आयोग के आयुक्त बी पी सिंह नगरीय निकाय चुनावों को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए जानकारी दे रहे हैं. चुनाव के बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि 6 जुलाई को पहले चरण का मतदान और 13 जुलाई को दूसरे चरण का मतदान किया जाएगा पहले चरण के नतीजे 17 जुलाई को और दूसरे चरण के नतीजे 18 जुलाई को घोषित किए जाएंगे. कुल 347 निकायों में चुनाव होना है पहले चरण में 133 और दूसरे चरण में 214 निकायों पर चुनाव होंगे. सभी निकायों पर चुनाव कराने के लिए प्रदेश में 19,977 मतदान केंद्र बनाए गए हैं जिन पर 87,937 कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जाएगी ईवीएम के जरिए ही मतदान होंगे जिसका समय सुबह 7:00 से शाम 5:00 बजे तक रखा गया है.

राज्य निर्वाचन आयुक्त बीपी सिंह ने बताया कि 11 जून से नामांकन जमा होंगे. 18 जून को नामांकन प्राप्त करने की अंतिम तारीख रहेगी. नाम वापस लेने की अंतिम तारीख 22 जून में रहेगी. 22 जून को ही प्रतीक चिन्हों का आवंटन हो जाएगा. नगर निगम के महापौर सीधे जनता चुनेगी. किसी ने भी झूठा शपथ पत्र दिया तो उस पर केस दर्ज किया जाएगा. सभा और रैलियों के लिए अनुमति लेना जरूरी कर दिया गया है. इंदौर भोपाल में 5-5 ईवीएम मशीनें चुनाव के लिए रिजर्व रखी जाएगी. चुनाव में नोटा का विकल्प भी उपलब्ध कराया गया है.

बता दें कि प्रदेश के 397 नगरीय निकाय में चुनाव कराए जाने के लिए आरक्षण प्रक्रिया पूरी कर ली गई है. 99 नगर पालिका में ओबीसी का आरक्षण 25 से बढ़कर 28% पहुंच गया है. 2015 में नगर पालिका में ओबीसी के लिए 25 सीटें आरक्षित थी जो अब 28 हो गई है. नगर निगम में ओबीसी आरक्षण 25% और नगर परिषद में 24.16 प्रतिशत देखा गया.

जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए भी आरक्षण प्रक्रिया कर ली गई है. 52 में से 4 सीट ओबीसी के लिए रिजर्व की गई है. यहां पिछली बार के मुकाबले 9 सीटें कम है. 2014-15 में ओबीसी के लिए 13 सीट आरक्षित की गई थी. नगर निगम में 16, नगर पालिका में 99 और नगर परिषद में 298 सीटें हैं.