7th Pay Commission
7th Pay Commission

7th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों को हाल ही में मोदी सरकार (Modi Government) डीए बढ़ोतरी यानी महंगाई भत्ते (Dearness Allowance) में इजाफे का लाभ दिया है। सरकार ने हाल में केंद्रीय कर्मियों के DA को 34 फीसदी से बढ़ाकर 38 फीसदी कर दिया गया है। ऐसे में डीए में पूरे 4 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है। अब इस फैसले के बाद सरकार कर्मियों को एक और खुशखबरी देने जा रही है।

सरकार ले सकती है ट्रैवल अलाउंस में बढ़ोतरी का फैसला

दरअसल, अब सरकारी कर्मचारियों के ट्रैवल अलाउंस (Travel Allowance) में बढ़ोतरी का फैसला सरकार ले सकती है। मीडिया में चल रही खबरों की अगर मानें तो वित्त मंत्रालय के व्यय विभाग की तरफ से जारी नोटिफिकेशन के अनुसार अब केंद्रीय कर्मचारी अपने ऑफिशियल दौर पर तेजस एक्सप्रेस से भी सफर कर पाएंगे। वित्त मंत्रालय द्वारा जारी एक नोटिस में यह बात निकल कर आई है। इस नोटिस के अनुसार अधिकारियों ने ऑफिशियल टूर के लिए तेजस एक्सप्रेस ट्रेनों में यात्रा में रियायत को सरकार ने इजाजत दे दी है। ऑफिस मेमोरेंडम के मुताबिक ये ट्रेनों के अलावा टूर, ट्रेनिंग, ट्रांसफर और रिटायरमेंट यात्रा के लिए लागू होगा।

Also Read – Gujarat Polls Live Update: गुजरात में 93 सीटों पर वोटिंग जारी, PM मोदी ने लाइन में लगकर डाला वोट

केंद्रीय कर्मियों के ट्रैवल अलाउंस को कुल 3 कैटेगरी में बांटा गया

गौरतलब है कि केंद्रीय कर्मचारियों के ट्रैवल अलाउंस को कुल तीन तरह की कैटेगरी में बांटा गया है। पहली कैटेगरी में 1,350 रुपये का ट्रैवल अलाउंस मिलता है। वहीं दूसरे में 3 से 8 लेवल के कर्मियों को ट्रैवल अलाउंस 3,600 रुपये तक मिलता है। वहीं 9 से ऊपर के लेवल पर ट्रैवल अलाउंस 7,200 रुपये से अधिक मिलता है। इसके साथ ही शहरों के अनुसार भी ट्रैवल अलाउंस का निर्धारण हो रहा है।

मेट्रो सिटी में रहने वाले 9 लेवल से ऊपर के कर्मचारियों को 7,200 रुपये टीए मिलता है। वहीं छोटे शहरों में रहने वालों के लिए यह रकम 3,600 रुपये है। जबकि बाकियों को 1800 रुपये का भुगतान किया जाता है. लेवल 1 और 2 के कर्मचारियों को 1,350 रुपये TA का भुगतान किया जाता है। बाकी कर्मचारियो के लिए यह 900 रुपये है। इसके अलावा सरकार जिन भी कर्मचारियों को कार की सुविधा देती है उनको हर महीने 15,750 रुपये का टीए मिलता है। सरकारी नौकरी में कार की सुविधा पे लोवल 14 या इससे ऊपर के कर्मचारियों को दी जाती है।